गन्ना किसानों को मिल सकती है राहत, 8 हजार करोड़ रु के पैकेज का हो सकता है ऐलान: सूत्र

देश भर में अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों को तो अभी राहत नहीं मिली है लेकिन गन्ना किसानों को सरकार से बड़ी सौगात मिलने वाली है।

  |   Updated On : June 04, 2018 11:54 PM
गन्ना  (फाइल फोटो)

गन्ना (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

देश भर में अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों को तो अभी राहत नहीं मिली है लेकिन गन्ना किसानों को सरकार से बड़ी सौगात मिलने वाली है।

सूत्रों के मुताबिक गन्ना किसानों के बकाये राशि की भुगतान के लिए केंद्र सरकार 8 हजार करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान कर सकती है।

इस फंड के जरिए न सिर्फ गन्ना किसानों के बकाये पैसे का भुगतान होगा बल्कि सरकार 30 लाख टन गन्ने का बफर स्टॉक भी बनाएगी।

किसानों को बकाये राशि का भुगतान सीधे उनके खाते के जरिए किया जाएगा। सरकार को उम्मीद है कि गन्ने के बफर स्टॉक से चीनी की सप्लाई को कम किया जा सकेगा।

वहीं सरकार के इस फैसले को लेकर किसान संघर्ष समिति ने कहा है कि यह सब कैरान उपचुनाव का असर है। सरकार कॉरपोरेट के हाथों में खेल रही है। गौरतलब है किसानों के बकाये राशि का भुगतान चीनी मिलों को करना है।

और पढ़ें: फ्री ट्रांजेक्शन की लिमिट से ज्यादा बार निकाला कैश तो भरना पड़ेगा GST

खास बात यह है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कैरान लोकसभा सीट और नूरपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा। इन इलाकों में गन्ना किसानों की अच्छी खासी तादाद है लेकिन चीनी मिलों के बकाये राशि के भुगतान नहीं करने से यहां के किसान बीजेपी की राज्य और केंद्र सरकार से बेहद नाराज थे।

बीजेपी मुख्यालय ने जब हार के कारणों का पता लगाना शुरू किया तो उसे कार्यकर्ताओं से यही फीडबैक मिला कि गन्ना के बकाये राशि का भुगतान नहीं होने से किसान बेहद नाराज थे और उन्होंने बीजेपी उम्मीदवारों को वोट नहीं दिया।

और पढ़ें: पीयूष गोयल ने कहा, UPA के समय 750 लोग हुए थे 'इस्लामिक आतंकवाद' के शिकार, अब सिर्फ 4

First Published: Monday, June 04, 2018 09:24 PM

RELATED TAG: Modi Government, Sugarcane Farmers, Buffer Stock,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो