BREAKING NEWS
  • राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद मदन लाल सैनी का निधन- Read More »
  • टीएमसी मंगलवार को राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण का जवाब देगी- Read More »
  • बाबा राम-रहीम को पैरोल पर रिहा करने के लिए हरियाणा पुलिस ने की सिफारिश, जानिए क्यों- Read More »

गरुड़ कमांडोज ने 'शहीद' की बहन को दी ऐसी विदाई, जानकर आपकी भी आंखें हो जाएंगी नम

News State Bureau  |   Updated On : June 14, 2019 06:10 PM
शहीद जवान की शादी में पहुंचे साथियों ने की भाई की रस्म अदा

शहीद जवान की शादी में पहुंचे साथियों ने की भाई की रस्म अदा

ख़ास बातें

  •  शहीद की बहन की शादी में पहुंचे जवानों भाई की रस्म निभाई
  •  निराला अपने परिवार के इकलौते कमाने वाले शख्स थे
  •  4 बहनों में दूसरी बहन की शादी जवानों ने खुद की 

नई दिल्ली:  

पिछले सप्ताह शहीद जवान कार्पोरल जवान ज्योति प्रकाश निराला की बहन की शादी की है जो कि पटना में हुई थी. इस शादी में सबसे दिलचस्प बात यह थी कि निराला के परिवार में उनकी शहादत के बाद कोई भी सदस्य कमाने वाला नहीं था फिर भी यह शादी बड़े धूमधाम से की गई. इस शादी में निराला के सहकर्मियों ने मिलकर सारा खर्च उठाया और समाज के सामने एक मिसाल पेश की अगर कोई खुद को देश के लिए कुर्बान कर देता है तो उस उसकी शहादत बेकार नहीं जाती. यह शादी निराला के साथी कमांडोज ने मिलकर की शहीद निराला के साथियों ने इस शादी के लिए 5 लाख रूपए इकट्ठा किए थे. उनके साथियों का कहना था कि यह उनके साथी कमांडो के लिए मित्रों और सहकर्मियों की ओर से श्रद्धांजलि थी.

साल 2017 में भारतीय वायुसेना (IAF) के गरुड़ कमांडो के शहीद कार्पोरेल ज्योति प्रकाश निराला ने कश्मीर में जकीउर्र रहमान के भतीजे सहित लश्कर के 5 आतंकियों को मार गिराया था और अंत में छठें आतंकी से लड़ते हुए शहीद हो गए थे हालांकि सेना ने इस ऑपरेशन में सभी 6 आतंकियों को मार गिराया था. अपने अदम्य पराक्रम से 31 वर्षीय जवान से देश का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया था. लेकिन इस लड़ाई में निराला जैसा जवान खो दिया. निराला अपने परिवार में अकेले ही कमाने वाले व्यक्ति थे इस वजह से उनके परिवार को आर्थिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है लेकिन जब बात बहनों की शादी की आई तब साथी जवानों ने आगे बढ़कर इस जिम्मेदारी को अपने कंधों पर ले लिया. यह निराला की चार बहनों में से दूसरी बहन की शादी थी. गरुड़ कमांडो की यूनिट के हर एक अधिकारी और उनके सब ऑर्डिनेट्स ने आपस में चंदा करके ₹5 लाख रुपये इकट्ठा किया और शहीद की बहन को अपनी बहन समझकर आयोजन में पूरा सहयोग किया और शादी में शामिल भी हुए

जब समय आया उसे विदा करने का तो सभी कमांडो ने अपने हाथ की हथेलियों से रास्ता बना कर बहन को उसके ऊपर से गुजारा और यह बताया कि एक भाई संसार से चला गया है लेकिन पीछे अनेकों भाई एक साथ परिवार को सम्भाले खड़े हैं. यह अद्भुत दृश्य था अनोखे रिश्तों को निभाने का. इस शादी में शहीद निराला के कई मित्र मौजूद थे जो देश के विभिन्न भागों में तैनात हैं कार्पोरल निराला की बहन की विदाई के समय शहीद के सभी दोस्तों की आंखे नम थीं हर कोई भावनाओं से भरा हुआ था जब विदाई होने लगी तब गरुड़ कमांडोज ने अपने हाथ आगे कर बहन की विदाई में भाई के रस्म को पूरा किया जिसे देखकर हर कोई भारतीय सेना पर गर्वान्वित हुआ. ऐसी भावभीनी विदाई के लिए वहां मौजूद सभी लोगों ने जवानों को सलाम किया.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्वर्गीय गरुड़ कमांडो निराला को उनके मरणोपरांत उनके शौर्य के लिए देश के सर्वोच्च सम्मान से नवाजते हुए उन्हें अशोक चक्र देकर सम्मानित किया.

First Published: Friday, June 14, 2019 05:14 PM

RELATED TAG: Iaf Jawan, Garuda Jawan, Martyre Jyoti Prakash Nirala, President Ramnath Kovind Awarded Him Ashok Chakra, Garuda Commando Contribute 5 Laks In Marriage, Family Struggling After Martyr Of Nirala, Nirala Killed 5 Terrorist Of Let,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो