हिंदी के विख्यात कवि कुंवर नारायण का निधन

हिंदी के विख्यात कवि कुंवर नारायण का 90 साल की उम्र में बुधवार को निधन हो गया। कुंवर नारायण लगातार पांच दशकों से लिखते आ रहे थे। उनकी पहली पुस्तक 'चक्रव्यूह' 1956 में प्रकाशित हुई थी।

  |   Updated On : November 15, 2017 07:20 PM
कवि कुंवर नारायण (फाइल फोटो)

कवि कुंवर नारायण (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

हिंदी के विख्यात कवि कुंवर नारायण का 90 साल की उम्र में बुधवार को निधन हो गया। कुंवर नारायण लगातार पांच दशकों से लिखते आ रहे थे। उनकी पहली पुस्तक 'चक्रव्यूह' 1956 में प्रकाशित हुई थी।

उन्हें 1995 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। नारायण को 2009 में पद्म भूषण से नवाजा गया था।

रजा फाउंडेशन के प्रबंध ट्रस्टी और प्रसिद्ध कवि अशोक वाजपेयी ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा, 'एक बेहतरीन सोच, सिनेमा, कविता, दर्शन और संगीत के गंभीर और रसिक होने के साथ-साथ कुंवर नारायण को एक सभ्य इंसान, उनकी उदारता, शांत स्वभाव, प्रेरक प्रेरणा और रचनात्मक उपस्थिति के लिए याद किया जाएगा।'

नहीं रहीं मशहूर अदाकारा श्यामा, बरसात की रात, आर-पार समेत 175 फिल्मों में किया था काम

नारायण उत्तर प्रदेश के फैजाबाद के मूल निवासी थे और उन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय से अंग्रेजी में स्नातकोत्तर किया था। कविताओं के इतर उन्होंने कई उपन्यास, अनुवाद और साहित्यिक आलोचना का लेखन किया था।

यह भी पढ़ें: 'टाइगर जिंदा है' का पैक-अप, सलमान खान ने शेयर किया 'रेस 3' का फर्स्ट लुक

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

First Published: Wednesday, November 15, 2017 07:09 PM

RELATED TAG: Famous Hindi Poet Kunwar Narayan Is No More,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो