दिल्ली: मैक्स अस्पताल ने दो डॉक्टर को निकाला, जिंदा बच्चे को बताया था मृत

30 नवंबर की सुबह मैक्स अस्पताल में एक महिला ने जुड़वा बच्चों (एक लड़का और एक लड़की) को जन्म दिया था।

News State Bureau  |   Updated On : December 04, 2017 02:22 PM
मैक्स अस्पताल (फाइल फोटो)

मैक्स अस्पताल (फाइल फोटो)

ख़ास बातें

- अस्पताल प्रशासन ने जिंदा नवजात बच्चे को बताया था मृत

- घरवालों के धरना प्रदर्शन के बाद दो डॉक्टर पर हुई कार्रवाई

नई दिल्ली:  

जिंदा बच्चे को मृत बताने के मामले में शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल ने कार्रवाई करते हुए दो डॉक्टरों को निकाल दिया है। अस्पताल प्रशासन ने बयान जारी करते हुए कहा कि मामले में जांच अभी भी जारी है।

जानकारी के मुताबिक, बच्चे का इलाज कर रहे डॉक्टर एपी मेहता और डॉक्टर विशाल गुप्ता को निकालने का फैसला लिया गया। मैक्स हेल्थकेयर ने कहा, 'विशेषज्ञ समूह की जांच अभी जारी है। हमने जुड़वा बच्चों के जन्म के मामले में दो डॉक्टरों की सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं।'

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए भरा नामांकन, मनमोहन बोले- पार्टी के डार्लिंग हैं

गौरतलब है कि 30 नवंबर की सुबह मैक्स अस्पताल में एक महिला ने जुड़वा बच्चों (एक लड़का और एक लड़की) को जन्म दिया। इनमें बच्ची मृत पैदा हुई थी, लेकिन अस्पताल प्रशासन ने माता-पिता को बताया कि दोनों बच्चे मृत पैदा हुए हैं।

इसके बाद उन्होंने दोनों बच्चों को एक पॉलिथिन बैग में डालकर फैमिली को सौंप दिया। अंतिम संस्कार से पहले परिवार ने पाया कि एक बच्चा जीवित है।

फिर घरवालों ने करीब चार दिनों तक अस्पताल के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर धरना दिया। जिसके बाद दो डॉक्टरों को निकाल दिया गया है।

ये भी पढ़ें: भारतीय स्वास्थ्य देखभाल का बाजार 2022 तक हो सकता है तीन गुना : एसोचैम

First Published: Monday, December 04, 2017 12:59 PM

RELATED TAG: Max Hospital,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो