अहमदाबाद अस्पताल में बच्चों की मौत पर कांग्रेस ने कहा, न्यायिक जांच कराई जाए

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि लापरवाही के लिए मुख्यमंत्री विजय रूपानी को इस्तीफा देना चाहिए और SC या हाई कोर्ट की निगरानी में मामले की एक स्वतंत्र जांच करानी चाहिए।

IANS  |   Updated On : October 29, 2017 10:35 PM
नवजात (फाइल)

नवजात (फाइल)

नई दिल्ली:  

कांग्रेस ने अहमदाबाद के एक सरकारी अस्पताल में हुई नवजात शिशुओं की मौत की न्यायिक जांच कराने की रविवार को मांग की और इस मुद्दे को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात में शामिल न किए जाने पर सवाल उठाया।

कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा कि चिकित्सकों की अनुपलब्धता के कारण अहमदाबाद सिविल अस्पताल में पिछले तीन दिनों के दौरान 18 शिशुओं की मौत हो गई।

उन्होंने राज्य प्रशासन की सरासर आपराधिक लापरवाही के लिए मुख्यमंत्री विजय रूपानी से इस्तीफे की मांग की और सर्वोच्च न्यायालय या उच्च न्यायालय की निगरानी में मामले की एक स्वतंत्र जांच कराने की मांग की।

शेरगिल ने आरोप लगाया कि सिविल अस्पताल के मुख्य अधीक्षक असवारा विधानसभा सीट से भाजपा का टिकट पाने की कोशिश में हैं और इसलिए वह सत्ताधारी भाजपा की सेवा में व्यस्त हैं। जबकि इस घटना के आरोपियों को बचाने के लिए मामले की लीपा-पोती शुरू हो गई है।

इसे भी पढ़ेंः सिविल हॉस्पिटल में 24 घंटे के अंदर 9 नवजात बच्चों की मौत

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को मन की बात करने के बदले जनता से, खासतौर से मृत शिशुओं के परिवारों से माफी मांगनी चाहिए थी, जबकि मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को भाजपा शासित गुजरात, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में नवजात शिशुओं की मौतों के लिए जवाबदेह बनाया जाना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि अहमदाबाद के सरकारी सिविल अस्पताल में शनिवार को नौ नवजात शिशुओं की मौत हो गई। इनमें से पांच शिशुओं को अन्य सरकारी अस्पतालों से गंभीर हालत में यहां स्थानांतरित किया गया था। सभी नवजात शिशुओं ने शनिवार को अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई में दम तोड़ दिया।

सभी राज्यों की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Sunday, October 29, 2017 10:13 PM

RELATED TAG: Ahmedabad, Gujarat, Congress,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो