छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों का हमला, CRPF के 9 जवान शहीद

सुकमा जिले के किसताराम इलाके में सीआरपीएफ के जवान बारुदी सुरंग की चपेट में आ गए।

  |   Updated On : March 13, 2018 11:44 PM
छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों का हमला

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों का हमला

ख़ास बातें
  •  छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों के हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के आठ जवान मारे गए हैं
  •  सुकमा जिले के किसताराम इलाके में सीआरपीएफ के जवान बारुदी सुरंग की चपेट में आ गए
  •   विस्फोट में 6 जवान घायल हुए हैं, जिनमें चार की हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है

नई दिल्ली:  

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलियों के हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 9 जवान मारे गए हैं। सुकमा जिले के किस्टाराम इलाके में सीआरपीएफ के जवान बारुदी सुरंग की चपेट में आने के कारण 6 जवान घायल हुए थे। अस्पताल ले जाते हुए एक जवान की मौत हो गई, अभी भी तीन जवानों की हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है।

नक्सली हमले पर शोक जताते हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा,' सुकमा, छतीसगढ़ में नक्सलियों द्वारा किए गए कायराना हमले में सी.आर.पी.एफ. के जवानों के शहीद होने की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति व दु:ख की इस घड़ी में उनके शोक संतप्त परिवारों को सबल दे। भारत माँ के वीरों को कोटि नमन व श्रद्धांजलि।'

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सुकमा नक्सली हमले में शहीद हुए मध्यप्रदेश के दो जवानों के परिवार वालों के लिए एक-एक करोड़ रु का मुआवजा देने की घोषणा की है।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के शहीद तीन जवानों के परिजनों को 25-25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है, जिसमें से 20 लाख रुपये प्रत्येक शहीद की पत्नी को और पांच लाख रुपये शहीद के माता-पिता को दिए जाएंगे

सुकमा हमले की निंदा करते हुए पूर्व डीजी एस के सूद ने कहा कि एक खास क्षेत्र में सीआरपीएफ बार-बार बड़े हमलों का शिकार हो रही है जिसका मतलब है हम अपनी पुरानी गलतियों से कुछ नहीं सीख रहे हैं। सीआरपीएफ कोई ठोस कदम नहीं उठा रहा।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर सुकमा हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी है। राहुल गांधी ने सुकमा में नक्सली हमले को दुर्भाग्यजनक बताते हुए कहा कि यह घटना दिखाती है कि देश की आंतरिक सुरक्षा की हालत बिगड़ती जा रही है। इसकी वजह सरकार की खामियों से भरी गैर-प्रासंगिक नीतियां हैं।

बताया जा रहा है कि किस्टाराम कैंप से 212 बटालियन की टीमें गश्त में निकली थी। करीब सुबह साढ़े सात बजे नक्सलियों ने उन पर फायरिंग शुरु कर दी। जानकारी के मुताबिक करीब 150 नक्सलियों ने मिलकर इस हमले को अंजाम दिया है। उन्होंने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग की और कई विस्फोट भी किए।

फिलहाल नक्सलियों और सुरक्षाकर्मियों के बीच मुठभेड़ बंद है।

नक्सल ऑपरेशन के डीजी डीएम अवस्थी ने कहा कि किस्टाराम से पलोड़ी कैम्प में सीआरपीएफ की एक टीम एन्टी माइन लैंड व्हीकल से जा रही थी, जिसे आईडी ब्लास्ट से नक्सलियो ने उड़ा दिया है।

उन्होंने कहा कि हादसे में कुछ घायल हुए हैं और उन्हें किस्टाराम से वापस लाया जा रहा है।

और पढ़ें- जया विवाद: नरेश अग्रवाल पर भड़की रेणुका चौधरी, कहा- अवसरवादी होना मर्द की पहचान नहीं

First Published: Tuesday, March 13, 2018 02:06 PM

RELATED TAG: Sukma, Chhattigarh, Crpf, Naxal Attack,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो