SC/ST कानून में बदलाव के विरोध में DMK का प्रदर्शन

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) ने अन्य विपक्षी दलों के साथ मिलकर सोमवार को अनुसूचित जाति तथाअनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम को कमजोर करने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

  |   Updated On : April 16, 2018 03:01 PM

नई दिल्ली :  

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) ने अन्य विपक्षी दलों के साथ मिलकर सोमवार को अनुसूचित जाति तथाअनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम को कमजोर करने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

सभा को संबोधित करते हुए डीएमके नेता एम.के. स्टालिन ने कहा कि इस कानून को कमजोर करने का सर्वोच्च न्यायालय का आदेश अस्वीकार्य है।

स्टालिन ने केंद्र सरकार से सर्वोच्च न्यायालय में अपील दर्ज करने तथाइस अधिनियम को संविधान की नौवीं अनुसूची में शामिल करने की भी मांग की।

विरोध प्रदर्शन में भाग लेने वाले राजनैतिक दलों में डीएमके, कांग्रेस, आईयूएमएल, एमडीएमके, वीसीके तथाएमएमके शामिल रहे।

सर्वोच्च न्यायालय ने मार्च 20 के अपने आदेश में कहा था कि किसी आरोपी को दलितों पर अत्याचार के मामले में प्रारंभिक जांच के बिना इस अधिनियम के तहत अनिवार्य रूप से गिरफ्तार नहीं किया जा सकता।

और पढ़ें: मक्का मस्जिद ब्लास्ट: सबूतों के अभाव में असीमानंद समेत सभी आरोपी बरी

First Published: Monday, April 16, 2018 02:51 PM

RELATED TAG: Scst Law, Supreme Court, Channai, Dmk,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो