किसानों पर मेहरबान मोदी सरकार, 20 नए एम्स-कृषि आय दोगुनी करने के लिए कृषोन्नति योजना के विस्तार को मंजूरी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में कई सारे अहम फैसले लिेए गए। इस कैबिनेट मीटिंग में सरकार ने अधिकतर किसान केंद्रित फैसले लिए हैं।

  |   Updated On : May 02, 2018 09:00 PM
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  चेन्नई, लखनऊ और गुवाहाटी एयरपोर्ट पर नए टर्मिनल के निर्माण को मंजूरी
  •  कैबिनेट ने दिल्ली के नजफगढ़ में 100 बिस्तरों के नए निर्माण को मंजूरी दी
  •  हरित क्रांति कृषोन्नोति परियोजना में केंद्र की भागीदारी 33,279 करोड़ रुपये

नई दिल्ली:  

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में कई सारे अहम फैसले लिेए गए।

इस कैबिनेट मीटिंग में सरकार ने अधिकांश फैसले किसानों से जुड़े हुए मुद्दों पर लिया।

आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने बुधवार को 11 विभिन्न कृषि योजनाओं की प्रभावी निगरानी के अलावा उनके समन्वय के लिए एकहरित क्रांति कृषि उन्नति परियोजना को मंजूरी दे दी।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए, हमारी सरकार ने 11 योजनाओं को एक ही छत के नीचे लाने का निर्णय लिया है। यह हरित क्रांति कृषोन्नोति परियोजना है। यह एक ऐतिहासिक निर्णय है।'

उन्होंने कहा कि इस नई परियोजना में केंद्र की भागीदारी 33,279 करोड़ रुपये होगी।

केंद्रीय कैबिनेट ने कारोवारी विवादों के जल्द निपटारे के लिए कानून में संशोधन के लिए अध्यादेश को मंजूरी दे दी है।

इसके अलावा सरकार ने गन्ना किसानों को बकाया राशि के भुगतान में मदद के लिए 5.5 रुपये प्रति क्विंटल की दर से सब्सिडी देने की घोषणा की है।

केंद्र सरकार ने चेन्नई, लखनऊ और गुवाहाटी एयरपोर्ट पर नए टर्मिनल के निर्माण के लिए प्रस्ताव को मंजूरी दी है। जिसमें 5,000 करोड़ रुपये के खर्च का अनुमान है।

20 नए एम्स को मंजूरी

कैबिनेट ने बुधवार को देश भर में 20 नए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की स्थापना की योजना को हरी झंडी दे दी है, जिसमें से छह पहले ही स्थापित हो चुके हैं।

साथ ही सरकार ने 73 मेडिकल कॉलेजों को भी अपग्रेड करने की योजना को मंजूरी दे दी।

कैबिनेट मीटिंग में प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना की समयसीमा को 12वीं पंचवर्षीय योजना से बढ़ाकर 2019-20 तक कर दिया गया है।

इसके तहत नए एम्स के निर्माण और सरकारी मेडिकल कॉलेजों के अपग्रेड को लेकर 14,382 करोड़ रुपये खर्च किए जाने हैं।

साथ ही कैबिनेट ने दिल्ली के नजफगढ़ में 100 बिस्तरों के नए निर्माण और परिचालन की मंजूरी दी है। इस पर करीब 95 करोड़ रुपये खर्च किए जाने का अनुमान है।

और पढ़ें: पीएम मोदी की तारीफ का मतलब बीजेपी से गठबंधन नहीं: देवगौड़ा

First Published: Wednesday, May 02, 2018 04:49 PM

RELATED TAG: Central Cabinet Meeting, Farmers, Aiims, Modi Government,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो