BREAKING NEWS
  • यासीन मलिक की पार्टी जेकेएलएफ पर सरकार ने लगाई रोक- Read More »
  • SAFF Womens Championship 2019: महिला फुटबाल टीम ने 5वीं बार जीता सैफ कप, नेपाल को 3-1 से हराया- Read More »
  • क्या World Cup से पहले भारतीय खिलाड़ियों को खेलना चाहिए IPL, जानें 12000 लोगों की राय- Read More »

पत्रकार हत्याकांड मामले में गुरमीत राम रहीम दोषी करार, 17 जनवरी को आएगा फैसला

News State Bureau  |   Updated On : January 11, 2019 04:19 PM

नई दिल्ली:  

साध्वी यौन शोषणा मामले में उम्र कैद की सजा काट रहे सिरसा के डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सीबीआई के स्पेशल कोर्ट से बड़ा झटका लगा है. पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड मामले में पंचकुला की विशेष सीबीआई कोर्ट ने उन्हें दोषी करार दे दिया है. इस मामले में 17 जनवरी को सीबीआई फैसला सुनाएगी. उनके अलावा तीन अन्य लोगों को भी इस केस में दोषी करार दिया गया है. मुख्य आरोपी राम रहीम की वीडियो कॅान्फ्रेसिंग के जरिए कोर्ट में सुनवाई हुई जिसमें जज ने उन्हों दोषी करार दिया. राम रहीम पर फैसले के बाद राज्य में कानून व्यवस्था न बिगड़े इसके लिए पंजाब हरियाणा और चंडीगढ़ समेत कई जिलों में अलर्ट है और पंजाब मालवा क्षेत्र के आठ जिलों की सुरक्षा के लिए 25 कंपनियां तैनात की गई है.

हरियाणा में विशेषकर पंचकूला, सिरसा (डेरा मुख्यालय) और रोहतक जिलों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए हैं. यहां कानून व्यवस्था से जुड़ी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए राज्य सशस्त्र पुलिस की कई कंपनियों, दंगा विरोधी पुलिस और कमांडो बल को तैनात किया जा रहा है.

हरियाणा के अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) मोहम्मद अकील ने कहा है कि हरियाणा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. पुलिस अधिकारी ने कहा कि सभी जिलों की पुलिस को लोगों को गैरजरूरी रूप से जमा होने से रोकने और अतिरिक्त निगरानी रखने के निर्देश दिये गए हैं. उन्होंने कहा कि कई इलाकों में नाकेबंदी भी की गई है.

2002 में हुई थी पत्रकार की हत्या

गौरतलब है कि अक्टूबर 2002 में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति को कथित रूप से राम रहीम के अनुयायियों द्वारा गोली मारी गई थी जिसके बाद अस्पताल में करीब एक महीने तक जूझने के बाद 21 नवंबर 2002 को उनकी मृत्यु हो गई थी. छत्रपति ने ही राम रहीम के आश्रम में साध्वियों के साथ हो रहे गलत कामों को लेकर अपने अखबार 'पूरा सच' में मोर्चा खोला था. इसी दौरान उन्होंने डेरा में हो रहे यौन शोषण के खिलाफ एक साध्वी द्वारा तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को लिखे गए पत्र को अपने अखबार में प्रकाशित किया था. उनकी हत्या के खिलाफ 2003 में मामला दर्ज किया गया था. बाद में यह मामला सीबीआई को सौंपा गया था.

रेप मामले में राम रहीम को मिली थी 20 साल की सजा

राम रहीम अपनी दो शिष्याओं से बलात्कार का दोषी करार दिए जाने के बाद रोहतक के सुनारिया जेल में 20 साल के कारावास की सजा काट रहा है. कोर्ट ने गुरमीत राम रहीम पर 30 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था. सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को रेप केस में 25 अगस्त 2017 को दोषी ठहराया था. इसके बाद पंचकूला समेत पंजाब और हरियाणा के कई जगहों पर राम रहीम के उपद्रवी समर्थकों ने जमकर उत्पात मचाया था, इसमें 38 लोगों की जानें गई थी और 250 से अधिक घायल हुए थे. दंगाईयों ने कई गाड़ियों, मीडिया कर्मियों को नुकसान पहुंचाया था.

First Published: Friday, January 11, 2019 03:09 PM

RELATED TAG: Gurmeet Ram Rahim, Ram Rahim Convicted,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

News State ODI Contest
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो