बजट 2017: अब IT रिटर्न में देरी की तो भरना पड़ेगा दस हजार तक का जुर्माना

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने बुधवार को आम बजट-2017 पेश करते हुए छोटे करदाताओं को बड़ी राहत देते हुए कहा कि आईटी रिटर्न भरने वालों को एक साल की स्क्रूटिनी से छूट मिलेगी।

  |   Updated On : February 02, 2017 08:57 AM

नई दिल्ली:  

अब अगर आईटी रिटर्न दाखिल करने में तय समय से आप देरी करते हैं तो जुर्माने के तौर पर और जेब ढीली करनी पड़ सकती है। वित्त मंत्री अरूण जेटली ने बुधवार को आम बजट-2017 पेश करते हुए छोटे करदाताओं को बड़ी राहत देते हुए कहा कि आईटी रिटर्न भरने वालों को एक साल की स्क्रूटिनी से छूट मिलेगी।

साथ ही सरकार ने 2.5-5 लाख रुपये की आय पर लगने वाले इनकम टैक्स को 10 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दिया है।

यह भी पढ़ें: बजट 2017: जानें मोदी सरकार के चौथे बजट में क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा

इन सबके बाद अहम बात यह है कि रिटर्न भरने में देरी होने पर लेट फीस जरूर भरनी होगी। इसके मुताबिक अगर आईटी रिटर्न दाखिल करने की लास्ट डेट के बाद अगर रिटर्न भरा गया तो बतौर लेट फीस 5000 रुपये लगेंगे। यही नहीं, अगर यह देरी 31 दिसंबर से भी ज्यादा होती है तो लेट फीस बढ़कर 10000 रुपये हो जाएंगे।

वैसे, जिन लोगों की आय 5 लाख रुपये से ऊपर नहीं है, उन्हें राहत दी जाएगी और उनको लेट फीस के रूप 1,000 रुपये ही भरने होंगे।

गौरतलब है कि भारत में जीडीपी अनुपात में टैक्स भरने वालों की संख्या बहुत कम है। असंगठित क्षेत्रों में करीब 4.2 करोड़ लोग रोजगार कर रहे हैं लेकिन केवल 1.74 करोड़ ही रिटर्न फाइनल करते हैं।

बजट की से जुड़ी सभी खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Thursday, February 02, 2017 08:48 AM

RELATED TAG: Budget 2017, Union Budget 2017-18, Arun Jaitley,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो