पीएम मोदी पर राहुल के हमले पर बीजेपी ने किया पलटवार, कहा ISIS के गठन को सही बताने वाले देश के भावी पीएम होंगे ?

जर्मनी के हैम्बर्ग में छात्रों और कारोबारियों के बीच मोदी सरकार पर हमला बोलने वाले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर अब बीजेपी ने भी पलटवार किया है।

  |   Updated On : August 23, 2018 12:00 PM
संबित पात्रा (फाइल फोटो)

संबित पात्रा (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

जर्मनी के हैम्बर्ग में छात्रों और कारोबारियों के बीच मोदी सरकार पर हमला बोलने वाले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर अब बीजेपी ने भी पलटवार किया है। बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा, आतंकी संगठन आईएसआईएस को न्यायसंगत बताने वाला देश का पीएम उम्मीदवार होगा यह अविश्वसनीय है।उन्होंने कहा, 'कांग्रेस अध्यक्ष राहुल जी को सीरिया में आतंकी संगठन आईएसआईएस को सही बताते हुए लोगों को डराने के लिए छिपी हुई धमकी दे रहे हैं कि अगर मोदी जी ने भारत को कोई विजन नहीं दिया तो जल्द ही कोई और (आईएसआईएस) विजन देगा। अविश्वनीय वह एक पीएम उम्मीदवार हैं।'

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने जर्मनी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आर्थिक से लेकर सामाजिक नीतियों तक पर हमला बोला था और कहा था कि एक तरफ उन्होंने नोटबंदी जैसे फैसले लेकर जहां अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है वहीं दूसरी तरफ बेरोजगारी की वजह से मॉब लिंचिंग की घटनाएं भी बढ़ी है।

 उन्होंने देश में मॉब लिंचिंग की बढ़ती घटनाओं को 'बेरोजगारी' से जोड़ा है। उन्होंने कहा की देश में बेरोजगारी के बढ़ने की वजह से लोगों में गुस्सा है और उसी का कारण हैं यह हिंसक घटनाएं। जर्मनी के हैम्बर्ग में अपने संबोधन के दौरान कहा, 'कुछ साल पहले प्रधानमंत्री जी ने भारतीय अर्थव्यवस्था में नोटबंदी का फैसला किया और एमएसएमई के नकद प्रवाह को बर्बाद कर दिया, अनौपचारिक क्षेत्र में काम करने वाले लाखों लोग बेरोजगार हो गए।'

राहुल ने कहा, 'बड़ी संख्या में छोटे व्यवसायों में काम करने वाले लोगों को वापस अपने गांव लौटने को मजबूर होना पड़ा। इससे लोग काफी नाराज हैं। लिंचिंग के बारे में जो कुछ भी हम सुनते हैं वो इसी का परिणाम है।'

उन्होंने कहा, 'दलितों, अल्पसंख्यकों, आदिवासियों को अब सरकार से कोई फायदा नहीं मिलता। उनको फायदा देने वाली सारी योजनाओं का पैसा चंद बड़े कॉर्पोरेट के पास जा रहा है।' इसके अलावा उन्होंने शरणार्थियों के मुद्दे पर भी अपनी बात रखी।

और पढ़ें: जीएसटी और नोटबंदी लागू करने को लेकर राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- देश की अर्थव्यवस्था को किया चौपट

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'शरणार्थियों के अपमान का कारण कामगारों के बीच नौकरियों की कमी होना है। इससे घृणा और टकराव पैदा हो रहा है।' भारत की जनसंख्या को लेकर राहुल ने कहा, भारत में यदि हम सभी लोगों को रोजगार दे पाते हैं तो जनसंख्या अपने आप में कोई समस्या नहीं है।' भारत और चीन के बीच तुलना पर राहुल ने कहा कि भारत में लोग जो चाहते हैं वो व्यक्त कर सकते हैं।

उन्होंने कहा, 'भारत और चीन के बीच कोई होड़ नहीं है। हो सकता है कि चीन भारत की तुलना में तेजी से बढ़ रहा हो, लेकिन भारत में लोग जो चाहते हैं वो व्यक्त कर सकते हैं, और यही मायने रखता है। इसके अलावा चीन और अमेरिका के साथ भारत के संबंधों पर राहुल ने कहा, 'अमेरिका के साथ भारत के सामरिक संबंध हैं, और हम उसके साथ लोकतंत्र जैसे कुछ विचार साझा करते हैं। लेकिन चीन बहुत तेजी से बढ़ रहा है। भारत की भूमिका इन दो शक्तियों को संतुलित करने की है।'

और पढ़ें: राहुल गांधी ने जर्मनी में बताया भारत में मॉब लिंचिंग की घटनाओं का कारण

राहुल ने नोटबंदी और जीएसटी लागू करने को लेकर पीएम मोदी की आलोचना की। वहीं मॉनसून सत्र के दौरान पीएम मोदी को गले लगाने पर राहुल गांधी ने कहा कि मैंने उनको गले लगाकर नफरत का जवाब प्यार से दिया है।

उन्होंने कहा कि सिर्फ भारत ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में लोगों को नफरत की बजाय चर्चा करनी चाहिए। वहीं राहुल गांधी से जब नफरत फैलाने वाले भाषण और राजनीति करने को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि भारतीय का मतलब ही अहिंसक है। आपको बता दें कि राहुल गांधी ब्रिटेन और जर्मनी के चार दिवसीय दौरे पर हैं। उन्होंने हैम्बर्ग के बुसेरियस समर स्कूल में एक कार्यक्रम के दौरान मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

First Published: Thursday, August 23, 2018 09:01 AM

RELATED TAG: Rahul Gandhi, Bjp, Sambit Patra, Narendra Modi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो