भिलाई ने केवल स्टील नहीं, देश को बनाया: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुर्ग में गुरुवार को कहा कि भिलाई ने केवल स्टील नहीं बनाया, बल्कि देश को बनाया और समाज को संवारा।

  |   Updated On : June 14, 2018 11:48 PM
छत्तीसगढ़ में पीएम मोदी (फोटो- IANS)

छत्तीसगढ़ में पीएम मोदी (फोटो- IANS)

नई दिल्ली:  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुर्ग में गुरुवार को कहा कि भिलाई ने केवल स्टील नहीं बनाया, बल्कि देश को बनाया और समाज को संवारा।

दुर्ग जिले के भिलाई में स्थित भिलाई स्टील प्लांट ने छत्तीसगढ़ की तस्वीर ही बदल दी। ठीक इसी तरह बस्तर का नगरनार स्टील प्लांट भी बस्तर अंचल की जिंदगी में बहुत बदलाव लाएगा।

प्रधानमंत्री ने भिलाई के जयंती स्टेडियम स्थित कार्यक्रम स्थल से भिलाई इस्पात संयंत्र आधुनिकीकरण परियोजना को राष्ट्र के नाम समर्पित किया, आईआईटी भिलाई का शिलान्यास किया और जगदलपुर से रायपुर के लिए विमान सेवा की शुरुआत की।

उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, 'हमने फैसला लिया है कि जो भी खनिज निकलेगा उससे होने वाली कमाई का एक हिस्सा वहां की जनता के विकास के लिए खर्च किया जाएगा। इसके लिए हमने कानून बनाया है। इसी कारण छत्तीसगढ़ को तीन हजार करोड़ की अतिरिक्त आमदनी हुई है और अब ये पैसे जनता के विकास में खर्च किए जा रहे हैं।'

उन्होंने कहा कि आज भिलाई की पहचान देश के एजुकेशन हब के लिए रही है। यहां आईआईटी की कमी थी।

मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, 'भिलाई को आईआईटी दिलाने की डॉ. रमन ने बहुत कोशिश की, इनकी चप्पलें घिस गईं, नहीं मिला, नहीं देने वाले कौन थे, आप सभी भली-भांति जानते हैं। अब हम हैं, हमने फैसला लिया है पांच नए आईआईटी का और उसमें से एक 11 सौ करोड़ रुपये की लागत की एक आईआईटी का आज यहां शिलान्यास हुआ।'

उन्होंने कहा, 'दो माह पहले वह 14 तारीख थी और आज भी 14 तारीख है। मैं आज दुबारा यहां की जनता का आशीर्वाद लेने आया हूं। 14 अप्रैल को आया था तो आयुष्मान योजना के पहले चरण की शुरूआत की थी। आज के लोकार्पण से छत्तीसगढ़ के इतिहास में एक और सुनहरा अध्याय जुड़ रहा है।'

प्रधानमंत्री ने कहा, 'भिलाई स्टील प्लांट के आधुनिकीकरण, केंद्र का लोकार्पण, जगदलपुर से विमान सेवा की शुरुआत आज से राज्य के नाम हो गई है। आज 22 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की योजनाओं का उपहार मैं समर्पित कर रहा हूं। इससे रोजगार, शिक्षा, आवाजाही के साधन बढ़ेंगे।'

मोदी ने कहा कि चार वर्षों से डिजिटल इंडिया को बढ़ावा दिया जा रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार भी इसे घर-घर तक पहुंचाने में लगी है।

उन्होंने कहा, 'पिछले बार मैंने छत्तीसगढ़ दौरे में बस्तर नेट परियोजना का लोकार्पण किया था। आज भिलाई से भारत नेट फेस-2 की शुरुआत हो रही है। इस ढाई हजार करोड़ के प्रोजेक्ट को अगले वर्ष पूर्ण किया जाएगा। छत्तीसगढ़ की चार हजार पंचायतों तक इंटरनेट पहुंच चुका है और आगे 6 हजार पंचायतों तक भी पहुंच जाएगा।'

मोदी ने कहा कि डिजिटल कनेक्टिविटी केवल एक से दूसरे जगह को नहीं बल्कि लोगों को भी कनेक्ट कर रही है। इसी का परिणाम है कि पुरानी सरकार सड़क तक बनाने से पीछे हट जाती थी, आज मार्ग बन रहे हैं। हवाईजहाज में हवाई चप्पल पहनने वाला भी जा सके, ये सपना है। ऐसा ही शानदार हवाईअड्डा जगदलपुर में बना है। रायपुर-जगदलपुर की दूरी 6-7 घंटे की जगह सिर्फ 40 मिनट रह गई है।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ का नया रायपुर शहर देश का पहला ग्रीन फील्ड बन गया है। यहां का अत्याधुनिक एकीकृत कमांड एवं नियंत्रण केंद्र आधुनिक तकनीक से संचालित होगा। दूसरे स्मार्ट शहरों के लिए यह रोल मॉडल होगा।

मोदी ने कहा, छत्तीसगढ़ की पहचान पिछड़ेपन, आदिवासियों, जंगल से थी, आज यह स्मार्ट राज्य बन रहा है। पिछले चार वर्षों में छत्तीसगढ़ सहित बड़े-बड़े शहरों के युवा मुख्यधारा से जुड़े हैं। विकास से जुड़े हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, 'किसी भी हिंसा और साजिश का एक ही जवाब है विकास.. विकास..और विकास। विकास हर प्रकार की हिंसा को खत्म कर देता है। हमने विकास के माध्यम से विश्वास पैदा किया है।'

मोदी ने कहा कि पिछली बार ग्राम सुराज अभियान की शुरुआत छत्तीसगढ़ से हुई। देश के 115 महत्वाकांक्षी जिले विकास की दौड़ में शामिल हुए। इनमें छत्तीसगढ़ के भी 12 जिले शामिल हैं। यह अभियान छत्तीसगढ़ के विकास में नया आयाम स्थापित करेगा।

उन्होंने कहा कि जब बस्तर की बात आती थी तो बंदूक, बम और नक्सली की बात की जाती थी आज बस्तर की बात हवाईअड्डे से जुड़ गई है। छत्तीसगढ़ का निर्माण अटल जी ने किया। उनका विजन छत्तीसगढ़ है। आज छत्तीसगढ़ को तेज गति से आगे बढ़ते देखना सुखद अनुभव है। आनंद और प्रेरणा देने वाला है।

मोदी ने कहा, 'छत्तीसगढ़ मेरे लिए कोई नया क्षेत्र नहीं है। जब यह मध्यप्रदेश से अलग नहीं हुआ था तब भी मैं इस क्षेत्र में मोटरसाइकिल से आया हूं। संगठन के काम से आता था तो हम यहां मिलते थे। तब से लेकर आज तक कोई ऐसा वक्त नहीं आया कि मेरी छत्तीसगढ़ से कोई दूरी बनी हो। 20-22 वर्षों से ऐसा कोई जिला नहीं बचा जहां मैं नहीं गया हूं।'

प्रधानमंत्री ने कहा कि कच्छ से कटक तक और करगिल से लेकर कन्याकुमारी तक जो भी पटरियां बिछी हैं, वे छत्तीसगढ़ की धरती का ही प्रसाद है।

अंत में मोदी ने कहा, 'आज यहां हुए भव्य स्वागत में पूरे हिंदुस्तान की झलक दिखी। भांगड़ा, कत्थक इत्यादि नृत्य से मेरा स्वागत हुआ। आज हिंदुस्तान का ऐसा कोई भी कोना नहीं बचा होगा जिसका दर्शन मुझे यहां नहीं हुआ होगा।'

मोदी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में करीब 6 लाख घर बनाए जा चुके हैं। 2-3 दिन पहले ही सरकार ने फैसला लिया है कि मध्यमवर्गीय परिवार के लिए यह घर छोटे पड़ रहे थे। अब इससे ज्यादा बड़े घरों पर भी ब्याज में छूट देकर मध्यमवर्गीय परिवार को राहत दी जाएगी।

सभी राज्यों की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Thursday, June 14, 2018 11:39 PM

RELATED TAG: Bhilai, Steel, Society, Modi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो