फैजाबाद का नाम हुआ अयोध्या, दीपोत्सव पर सीएम योगी का बड़ा ऐलान

अयोध्या में दिवाली से एक दिन पहले दीपोत्सव कार्यक्रम में 3 लाख मिट्टी के दीये जलाने का विश्व रिकॉर्ड बना. सरयू नदी के तट पर 3,01,152 दीये जलाकर अयोध्या दीपोत्सव 2018 गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया.

News State Bureau  |   Updated On : November 07, 2018 06:18 AM
अयोध्या में दीपोत्सव की तस्वीर (फोटो : IANS)

अयोध्या में दीपोत्सव की तस्वीर (फोटो : IANS)

अयोध्या:  

अयोध्या में दिवाली से एक दिन पहले दीपोत्सव कार्यक्रम में 3 लाख मिट्टी के दीये जलाने का विश्व रिकॉर्ड बना. सरयू नदी के तट पर 3,01,152 दीये जलाकर अयोध्या दीपोत्सव 2018 गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस कार्यक्रम के दौरान कई अहम घोषणाएं की जिसमें सबसे अहम फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या किए जाना है. मुख्यमंत्री के साथ दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जोंग-सूक ने मंगलवार शाम अयोध्या में दीपोत्सव में हिस्सा लिया और सरयू तट पर तीन लाख मिट्टी के दीयों को जलते देखा. यह भव्य प्रदर्शन राज्य की भारतीय जनता पार्टी की सरकार द्वारा शुरू किए गए 'दीपोत्सव' का दूसरा संस्करण था. अयोध्या नगरी को दिवाली के मौके पर भव्य तरीके से सजाया गया.

अधिकारियों ने कहा कि सरयू तट पर कुल 3,01,152 दीये जलाए गए और नदी के घाट का नाम 'गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड्स' में दर्ज हो गया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला ने पवित्र नदी की आरती की और लोगों ने तालियां बजाकर स्वागत किया. 'राम की पैड़ी' को बैंगनी, लाल और पीले रंग से सजाया गया और भगवान राम के जीवन पर आधारित लेसर शो का प्रदर्शन किया गया.

कोरिया की प्रथम महिला ने इससे पहले क्वीन हाऊ मेमोरियल पार्क की आधारशिला रखी, जिसे राज्य और दक्षिण कोरिया की सरकार द्वारा संयुक्त रूप से बनवाया जा रहा है.

इस महत्वाकांक्षी परियोजना पर उत्तर प्रदेश सरकार 24.66 करोड़ रुपये खर्च करेगी, जिसका लक्ष्य मंदिर से भरे इस शहर में विदेशी पर्यटकों को खींचना है, साथ ही उप्र और दक्षिण कोरिया के बीच सांस्कृतिक रिश्ते को मजबूती प्रदान करना है.

आदित्यनाथ ने इस मौके पर अयोध्या में मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा की, जिसका नाम अयोध्या के पूर्व राजा दशरथ के नाम पर होगा. उन्होंने हवाईअड्डे की भी घोषणा की, जिसका नाम भगवान राम के नाम पर होगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि जिले की पहचान भगवान राम से हैं, इसलिए फैजाबाद जिला अब अयोध्या के नाम से जाना जाएगा.

अयोध्या के राम कथा पार्क में दिवाली पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, 'अयोध्या हमारी आन, बान और शान का प्रतीक है, अयोध्या की पहचान भगवान राम से है. आज से इस जनपद फैजाबाद का नाम भी अयोध्या होगा.' उन्होंने कहा कि अयोध्या के साथ कोई अन्याय नहीं कर सकता है. पहले कोई मुख्यमंत्री अयोध्या नहीं आता था, मैं अब तक 6 बार यहां आ चुका हूं.

इसके अलावा योगी आदित्यनाथ ने कार्यक्रम में घोषणा करते हुए कहा, 'अयोध्या में एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की जाएगी, मैं इसका नाम राजा दशरथ के नाम पर रखना चाहता हूं. हम यहां पर भगवान राम के नाम पर एक एयरपोर्ट का निर्माण भी करेंगे.'

और पढ़ें : योगी आदित्यनाथ ने फैजाबाद जिले का नाम अयोध्या करने का किया ऐलान

उन्होंने कहा कि न जाति का भेद है न ही मजहब का और न ही भाषा का भेद, आज पूरा देश और उत्तर प्रदेश जान रहा है कि अयोध्या क्या चाह रहा है. मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान कई सारी योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया.

First Published: Tuesday, November 06, 2018 11:53 PM

RELATED TAG: Ayodhya Diwali, 3 Lakh Diya, Sarayu River, Yogi Adityanath, Ayodhya, Diwali, Faizabad,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो