BREAKING NEWS
  • रोहिंग्या शरणार्थियों की वापसी में रोड़ा अटका रहे कुछ एनजीओ, जानें कैसे- Read More »
  • PAK को भारत के साथ कारोबार बंद करना पड़ा भारी, अब इन चीजों के लिए चुकाने पड़ेंगे 35% ज्यादा दाम- Read More »
  • मुंबई के होटल ने 2 उबले अंडों के लिए वसूले 1,700 रुपये, जानिए क्या थी खासियत- Read More »

अरुण जेटली का कांग्रेस पर निशाना, 'डूबते राजवंश को बचाने के लिए और कितने झूठ बोलेंगे?'

News State Bureau  |   Updated On : February 12, 2019 08:41 PM
केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

अमेरिका से इलाज कराके केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली वापस स्वदेश लौट आए हैं. इसके साथ ही कांग्रेस पर हमला करने का सिलसिला भी जारी रखा है. अरुण जेटली ने अपने ब्लॉग के जरिए कांग्रेस पर हमला किया है. अरुण जेटली ने लिखा है कि आखिर एक डूबते राजवंश को बचाने के लिए कितने झूठ बोलने पड़ेंगे? अरुण जेटली ने लिखा, 'दुनिया भर के ज्यादातर लोकतंत्रों में जो लोग झूठ के सहारे आगे बढ़ने की कोशिश करते हैं, आखिरकार वो खुद सामाजिक जीवन से गायब हो जाते हैं. इसमें कोई शक नहीं कि बदलते सामाजिक-आर्थिक परिवेश में भारत में भी ऐसा ही होगा.

उन्होंने आगे लिखा है, आधुनिक दुनिया में राजवंशों की स्वाभाविक रूप से अपनी सीमाएं है. अकांक्षी समाज अब इस तरह की व्यवस्था को पसंद नहीं करता है. आज लोग जवाबदेही और परफॉर्मेंस पर भरोसा रखते हैं.'

लेकिन यह दुख की बात है कि भारत की सबसे पुरानी पार्टी एक वंश की गुलाम बनकर रह गई है. इसके कई वरिष्ठ नेताओं के पास साहस और नैतिक अधिकार की कमी है, ताकि राजवंशों की परंपरा को बदलने की कोशिश कर सके. इस परंपरा की शुरुआत 1970 में हुई थी. नेताओं की 'नौकर' वाली मानसिकता ने उन्हें इस बात के लिए राजी कर लिया कि उन्हें सिर्फ एक ही परिवार के गुण गाने हैं. जब यह वंश झूठ बोलता है तो बाकी नेता भी उनके साथ वैसा ही करने लगते हैं.'

इसे भी पढ़ें: राजस्थान: गुर्जर समुदाय को मिल सकती है खुशखबरी, कल विधानसभा में बिल पेश होने की उम्मीद

अरुण जेटली ने आगे लिखा कि आखिर एक डूबते वंश को बचाने के लिए आखिर कितने झूठ बोने पड़ेगे. जेटली ने महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि झूठ का संक्रामक प्रभाव काफी बड़ा है. उन्होंने कहा कि 'महाझूठबंधन' के उनके साथियों में भी यह अब दिखने लगा है. राफेल डील में जहां जनता के हजारों करोड़ रुपये बचाए गए हैं, उसे बदनाम करने के लिए रोजाना झूठ गढ़े जा रहे हैं. उन्होंने अपने आगे लिखा कि ताजा झूठ राफेल संबंध में संसद में पेश की गई सीएजी रिपोर्ट को लेकर फैलाया जा रहा है. वर्तमान सीएजी 2014-15 आर्थिक मामलों के सचिव थे. उस समय सबसे सीनियर अधिकारी होने के नाते वह वित्त सचिव भी थे.

और भी पढ़ें: कपिल सिब्बल SC में अंबानी का लड़ते हैं केस और बाहर करते हैं हमला, ट्रोल हुए कांग्रेस नेता

जेटली ने कहा कि राफेल से संबंधित कोई भी फाइल उस समय उनके पास नहीं पहुंची थी. कुछ वंशवादी लोग और उनके साथियों ने सीएजी पर हमला बोलने से पहले सुप्रीम कोर्ट पर भी टिप्पणी की थी. एक अखबार में छपी झूठी रिपोर्ट के आधार पर पूरी प्रक्रिया को ही कठघरे में खड़ा करने की कोशिश की गई.

जेटली ने अंत में लिखा कि आखिर एक डूबते वंश को बचाने के लिए कितने झूठ बोलने पड़ेंगे. उन्होंने कहा, 'भारत निश्चित रूप से इससे अच्छे का हकदार है.'

First Published: Tuesday, February 12, 2019 08:41:33 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Arun Jaitley, Congress, Rafale Deal, Rahul Gandhi, Sonia Gandhi, Priyanka Gandhi, Arun Jaitley On Congress,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

वीडियो