सोमनाथ विवाद: ओवैसी का BJP-कांग्रेस पर निशाना, कहा-झूठ है 'धर्मनिरपेक्षता' का दावा

सोमनाथ मंदिर में राहुल गांधी के दर्शन से मचे सियासी घमासान को लेकर एआईएमआईएम प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी ने कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) दोनों पर निशाना साधा है।

News State Bureau  |   Updated On : December 02, 2017 05:46 PM
ख़ास बातें
  •  सोमनाथ मंदिर में राहुल गांधी के दर्शन से मचे सियासी घमासान को लेकर असद्दुदीन ओवैसी ने कांग्रेस और बीजेपी पर साधा निशाना
  •  ओवैसी ने कहा 'धर्मनिरपेक्षता' का नारा और 'सबका साथ-सबका विकास' झूठ है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता

हैदराबाद:  

सोमनाथ मंदिर में राहुल गांधी के दर्शन से मचे सियासी घमासान को लेकर एआईएमआईएम प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी ने कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) दोनों पर निशाना साधा है।

ओवैसी ने कहा कि 'हिंदू बनाम जनेऊधारी हिंदू' विवाद ने बीजेपी और कांग्रेस के झूठ का पर्दाफाश किया है।

उन्होंने कहा, 'कांग्रेस और बीजेपी यह विवाद पैदा कर दलितों और आदिवासियों को यह बताना चाहती है कि वह तुच्छ हैं। उनका धर्मनिरपेक्षता का नारा और सबका साथ-सबका विकास झूठ है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।'

ओवैसी ने पूछा कि आखिर 'हिंदू बनाम जनेऊधारी हिंदू' विवाद को पैदा कर बीजेपी और कांग्रेस देश के दलितों और आदिवासियों में किस तरह का संदेश देना चाहती हैं।

उन्होंने कहा, 'क्या अंबेडकर ने इस तरह का रास्ता बनाया था जहां कोई अपने आप को जनेऊधारी हिंदू तो कोई अपने आप को एक साथ हिंदू, ओबीसी और कोई जैन होने के साथ-साथ अपने आप को हिंदू बता सके।'

ओवैसी ने कहा, 'क्या देश के स्वतंत्रता सेनानियों ने इसके लिए अपना बलिदान दिया था।'

बीजेपी और कांग्रेस दोनों पर विभाजनकारी राजनीति का आरोप लगाते हुए ओवैसी ने कहा, 'बीजेपी नेता राहुल गांधी को गैर हिंदू कह रहे हैं और कांग्रेस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गैर हिंदू बता रही है। लेकिन जब मैं कहता हूं कि मैं मुस्लिम हूं, तब मुझसे सवाल क्यों पूछे जाते हैं?'

हैदराबाद की एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, 'कांग्रेस पार्टी को यह बात समझनी चाहिए कि उनके पास कोई रणनीति नहीं है और साथ ही प्रधानमंत्री मोदी से लड़ने की ताकत भी नहीं है।'

ओवैसी ने कहा कि गुजरात में दलितों और आदिवासियों के बाद मुस्लिम सबसे ज्यादा पिछड़े हुए हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा, 'गुजरात में 12 फीसदी पाटीदार है और 11 फीसदी मुस्लिम। लेकिन 182 सीटों वाले विधानसभा में 32 पटेल विधायक हैं जबकि मुस्लिम विधायकों की संख्या महज 2 है। कांग्रेस पाटीदारों को आरक्षण दे रही है जबकि मुस्लिमों को लॉलीपॉप।'

गौरतलब है कि गुजरात यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने बुधवार को सोमनाथ मंदिर के दर्शन किए थे, जिसके बाद सियासी विवाद पैदा हो गया था। दरअसल राहुल गांधी के मीडिया को-ऑर्डिनेटर मनोज त्यागी के गैर हिंदुओं के लिए बने विजिटर रजिस्टर में हस्ताक्षर करने से विवाद हुआ।

इस दौरे के कुछ समय बाद सोशल मीडिया पर मनोज त्यागी के हस्ताक्षर वाला रजिस्टर घूमने लगा, जिसमें राहुल गांधी व अहमद पटेल का नाम बाई तरफ था, जिसे लेकर कांग्रेस ने बताया कि इस रजिस्टर में बाद में राहुल गांधी व अहमद पटेल का नाम जोड़ा गया।

इसके बाद बीजेपी ने उनकी आस्था को लेकर सवाल उठाए, तो कांग्रेस ने बीजेपी पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया।

सोमनाथ विवाद: बीजेपी के आरोपों के बाद कांग्रेस ने राहुल को बताया 'जनेऊधारी हिंदू'

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल पर हमला बोलते हुए कहा, कांग्रेस कह रही है कि यह एक साजिश है लेकिन हम कह रहे हैं कि कांग्रेस ही एक साजिश है। इस मुद्दे को लेकर बैकफुट पर आई कांग्रेस ने जवाब देते हुए कहा, 'राहुल गांधी न सिर्फ हिंदू हैं बल्कि जनेऊधारी हिंदू हैं।'

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'राहुल गांधी ने केवल हिंदू हैं बल्कि जनेऊधारी हिंदू है और बीजेपी को राजनीतिक मतभेद को इतने निचले स्तर तक नहीं ले जाना चाहिए।'

इसके बाद राहुल गांधी ने भी इस मामले में बीजेपी पर सीधे पलटवार किया था। उन्होंने कहा था, 'धर्म हमारी निजी चीज है। धर्म पर हम दलाली-व्यापार नहीं करना चाहते।'

भावनगर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि मेरी दादी (पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी) और मेरा पूरा परिवार शिवभक्त है। राहुल ने कहा, 'हमें अपने धर्म को लेकर किसी से कोई प्रमाणपत्र लेने की जरूरत नहीं है।'

और पढ़ें: सोमनाथ विवाद: राहुल का पलटवार, कहा-धर्म हमारा निजी मामला, नहीं करते इसकी दलाली और कारोबार 

First Published: Saturday, December 02, 2017 11:33 AM

RELATED TAG: Asaduddin Owaisi, Aimim Chief In Hyderabad, Somnath Controversy,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो