गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में हवाई हमले की योजना बना रहा लश्कर-ए-तैय्यबा, 50,000 से अधिक सुऱक्षा बल तैनात

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक आतंकी गणतंत्र दिवस के मौके पर चार्टर विमान का इस्तेमाल कर हवाई हमला कर सकते हैं। गणतंत्र दिवस के मौके पर हवाई हमले के खतरे को देखते हुए दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।

  |   Updated On : January 26, 2017 12:01 AM
गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में 50,000 से अधिक सुरक्षा बलों के जवान तैनात (फाइल फोटो)

गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में 50,000 से अधिक सुरक्षा बलों के जवान तैनात (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  खुफिया एजेंसियों के मुताबिक आतंकी गणतंत्र दिवस के मौके पर चार्टर विमान का इस्तेमाल कर हवाई हमला कर सकते हैं
  •  गणतंत्र दिवस के मौके पर हवाई हमले के खतरे को देखते हुए दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है
  •   दिल्ली में करीब दिल्ली पुलिस और पैरा मिलिट्री के 50,000 से अधिक जवानों को तैनात किया गया है

New Delhi:  

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक आतंकी गणतंत्र दिवस के मौके पर चार्टर विमान का इस्तेमाल कर हवाई हमला कर सकते हैं। गणतंत्र दिवस के मौके पर हवाई हमले के खतरे को देखते हुए दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।

राजपथ की सुरक्षा को देखते हुए अभूतपूर्व इंतजाम किए गए हैं। गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री के साथ देश की अन्य मशहूर हस्तियां भी मौजूद होती हैं। इस दौरान होने वाले परेड के दौरान देश की सैन्य और हवाई ताकत का नजारा देखने को मिलता है।

गंभीर खतरे की स्थिति को देखते हुए इस बार दिल्ली में करीब दिल्ली पुलिस और पैरा मिलिट्री के 50,000 से अधिक जवानों को तैनात किया गया है। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक लश्कर-ए-तैय्यबा जैसे आतंकी संगठन हेलिकॉप्टर या चार्टर जैसी सेवाओं को हाईजैक कर दिल्ली में हमला करने की फिराक में है।

और पढ़ें: RAW की चेतावनी, पाक आतंकी अफगानी पासपोर्ट पर कर सकते हैं भारत में घुसपैठ, गणतंत्र दिवस पर बढ़ी सुरक्षा

पुलिस इस संभावित खतरे से निपटने के लिए एंटी-ड्रोन तकनीक का इस्तेमाल कर रही है ताकि संदिग्ध हमले की स्थिति में विमान को हवा में ही मार गिराया जा सके। इसके अलावा सुरक्षा बलों को दिल्ली की ऊंची इमारतों पर भी तैनात किया गया है, जो एंटी एयरक्राफ्ट गन से लैस हैं। राजपथ की सुरक्षा के लिए हर गली और चौराहे पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

खुफिया एजेंसियों की तरफ से जारी सूचना में कहा गया है, 'आतंकवादी सुरक्षा बलों की वर्दी का इस्तेमाल करते हुए फिदायीन हमला तक कर सकते हैं। इसलिए वीवीआईपी और अन्य व्यक्तियों की सुरक्षा जांच के दौरान बेहद सावधानी बरते जाने की जरूरत है।

एजेंसियों ने कहा है कि कुछ मुस्लिम चरमपंथी संगठन गणतंत्र दिवस के मौके पर मुंबई जैसा हमला कर सकते हैं। सुऱक्षा को देखते हुए आईजीआईए पर 26 जनवरी को सुबह 10.35 से 12.15 तक किसी विमान को टेक-ऑफ करने की अनुमति नहीं दी गई है।

और पढ़ें: CIA की रिपोर्ट से खुलासा: राजीव गांधी को शर्मिंदगी से बचाने के लिए स्वीडन ने बंद की थी बोफोर्स घोटाले की जांच

First Published: Wednesday, January 25, 2017 04:09 PM

RELATED TAG: Lashkar-e-taiba, January 26, Delhi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो