पीएम मोदी ने किया आगाह, कहा- 2022 तक पिछड़े जिलों में लाएं विकास..दुनिया की उम्मीदों पर भी उतरना है खरा

पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया भारत की तरफ देख रही है और हमारे संस्थानों को हमेशा परिणाम के बारे में सोचना चाहिये।

  |   Updated On : June 06, 2017 07:41 AM
नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री (फाइल फोटो)

नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :  

सरकार के तीन साल पूरे होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मंत्रालयों के सचिवों से अपने निवास स्थान पर मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि वो ऐसे लक्ष्यों को चिन्हित करें जिन्हें 2022 तक पूरा किया जा सके। खास कर उन 100 जिलों में विकास के कामों पर ध्यान दिया जाए जहां सबसे ज्यादा पिछड़ापन है। साथ ही उन्होंने कहा कि दुनिया को भारत से उम्मीद है हमें उसके लिये भी मेहनत करनी होगी। 

साल 2022 में भारत अपनी स्वतंत्रता की 75वीं सालगिरह मनाएगा। सचिवों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि पिछली सदी के प्रशासनिक तरीकों से बाहर निकल कर काम करें और आज की चुनौतियों को देखकर देश की उन्नति में अपना योगदान दें। 

प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री ने सचिवों से कहा कि वो मानवजाति के उन लोगों के लिये काम करें जहां विकास की रोशनी नहीं पहुंची है और उन लोगों के जीवन में परिवर्तन लाएं। 

उन्होंने कहा कि दुनिया भारत की तरफ देख रही है और हमारे संस्थानों को हमेशा परिणाम के बारे में सोचना चाहिये।

और पढ़ें: Video: जीसैट-19 को GSLV मार्क-3 ने कक्षा में किया स्थापित, जानें 8 खास बातें

केंद्र की सत्ता में तीन साल पूरे होने के अवसर पर प्रधानमंत्री ने सभी मंत्रियों को निर्देश दिया है कि वो अपने मंत्रालय से जुड़े कामकाज के बारे में जनता को बताएं। साथ ही सभी मंत्रालयों की रिपोर्ट भी तैयार की जा रही है। जिसमें मंत्रियों के काम-काज की समीक्षा की जाएगी। 

और पढ़ें: सुषमा स्वराज ने किया साफ, नरेंद्र मोदी और नवाज शरीफ की अस्ताना में नहीं होगी मुलाकात

उन्होंने कहा कि एक खांचे में काम करने की मानसिकता से बाहर आना चाहिये। सरकार की उपलब्धि और सफलता इसलिये संभव हो पाई क्योंकि सभी अंगो ने मिलकर काम किया है। उन्होंने जनधन योजना और मिशन इंद्रधनुष का उदाहरण भी दिया।

स्वच्छ भारत अभियान के बारे में उन्होंने कहा कि इसकी सफलता के पीछे सबसे बड़ा कारण है जनता का सहयोग इसी के कारण ही प्रशासनिक परिवर्तन भी संभव हो पाया।

जीएसटी के बारे में उन्होंने कहा कि इसके जुलाई से लागू होने पर देश में आर्थिक क्रांति आएगी जो देश के लिये ऐतिहासिक होगा। उन्होंने सचिवों से इस दिशा में जोश के साथ काम करने के लिये कहा।

पीएम ने ब्यूरोक्रैट्स को कहा दुनिया भारत की तरफ देख रही है और ये भारत के लिये अद्वितीय मौका है जिसे छोड़ा नहीं जा सकता है। हमें दुनिया की उम्मीदों के लिये काम करना होगा।

और पढ़ें: पीएम मोदी के बयान का चीन ने किया स्वागत, कहा-सीमा विवाद के बावजूद संबंधों में स्थिरता

इस मौके पर निदेश मंत्री सुषमा स्वराज, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर नितिन गडकरी और वित्त मंत्री अरुण जेटली मौजूद थे।

और पढ़ें: सुषमा की डोनल्ड ट्रंप को दो टूक, कहा- किसी लालच या दबाव में समझौते से नहीं जुड़े

First Published: Monday, June 05, 2017 10:29 PM

RELATED TAG: Pm Modi Addresses Secretaries, 3 Years Of Modi Govt,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो