सोनीपत बम ब्लास्ट केस: आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को आजीवन कारावास

1996 सोनीपत बम ब्लास्ट मामले में सोनीपत की अदालत ने आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। अदालत ने सोमवार को टुंडा को दोषी ठहराया था।

  |   Updated On : October 10, 2017 03:03 PM

नई दिल्ली:  

1996 सोनीपत बम ब्लास्ट मामले में सोनीपत की अदालत ने आतंकी अब्दुल करीम टुंडा को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। अदालत ने सोमवार को टुंडा को दोषी ठहराया था।

कोर्ट ने साथ ही टुंडा को आदेश दिया है कि वह सभी पीड़ितों को 50-50 हजार रुपये दे।

सोनीपत में 28 दिसंबर, 1996 को दो स्थानों पर बम धमाका हुआ था। धमाके में करीब एक दर्जन लोग घायल हुए थे। पुलिस ने इस संबंध में इंदिरा कालोनी निवासी सज्जन सिंह के बयान पर मामला दर्ज किया था।

2013 में दिल्ली पुलिस ने टुंडा को भारत-नेपाल सीमा से गिरफ्तार किया था।

उत्तर प्रदेश के पिलखुआ का रहने वाल टुंडा मुंबई, हैदराबाद, दिल्ली, रोहतक और जालंधर में हुए हमलों का आरोपी है। इन हमलों में 20 से अधिक लोग मारे गए थे और 400 से अधिक लोग घायल हो गए। सैयद अब्दुल करीम उर्फ टुंडा आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैएबा का संदिग्ध आतंकी है।

और पढ़ें: अयोध्या में सरयू तट पर लगेगी राम की मूर्ति, योगी सरकार का प्रस्ताव

First Published: Tuesday, October 10, 2017 12:31 PM

RELATED TAG: Sonipat Bomb Blast Case, Sonipat Court, Life Sentence, Abdul Karim Tunda,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो