हिमाचल चुनाव: स्वतंत्र भारत के पहले मतदाता श्याम शरण नेगी के स्वागत में बिछा 'रेड कार्पेट'

किसी भी लोकतांत्रिक देश में सबसे बड़ा लोकतांत्रिक पर्व होता है चुनाव और इस चुनावी पर्व में सबसे महत्वपुर्ण भूमिका होती है मतदाताओं की। भारत में 1952 में हुई थी।

  |   Updated On : November 09, 2017 02:06 PM

नई दिल्ली:  

किसी भी लोकतांत्रिक देश में सबसे बड़ा लोकतांत्रिक पर्व होता है चुनाव और इस चुनावी पर्व में सबसे महत्वपुर्ण भूमिका होती है मतदाताओं की। भारत में 1952 में हुई थी।

हिमाचल प्रदेश में 25 अक्टूबर 1952 को चुनाव हुए थे। दरअसल 66 साल पहले 1951 में श्याम शरण नेगी इतिहास बनाया था जब उन्होंने हिमाचल प्रदेश के जिला किन्नौर के कल्पा के मतदान केन्द्र में मतदान किया। इस तरह वह स्वतंत्र भारत के पहले मतदाता बन गए थे।

आज स्थानीय प्रशासन ने भी उनके स्वागत के लिए खास इंतजाम किए हैं। मतदान केंद्र पर रेड कार्पेट बिछा कर उनका स्वागत किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: पद्मावती विवाद: बीजेपी विधायक ने कहा- ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं होगी

सौ साल की उम्र पार कर चुके नेगी ने अबतक सभी 16 लोकसभा चुनावों तथा 14 विधानसभा चुनावों में मताधिकार का इस्तेमाल किया है और इस तरह से वह अब तक 31 बार मतदान कर चुके हैं।

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

First Published: Thursday, November 09, 2017 01:59 PM

RELATED TAG: Shyam Sharan Negi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो