नाइट शिफ्ट महिलाओं के लिए खतरनाक, हो सकता है कैंसर

अगर आप महिला हैं और आपको कार्यस्थल पर लंबे समय से नाइट शिफ्ट में काम करना पड़ रहा है, तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए चिंता का विषय हो सकता है।

  |   Updated On : January 09, 2018 07:28 AM
नाइट शिफ्ट (फाइल फोटो)

नाइट शिफ्ट (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :  

अगर आप महिला हैं और आपको कार्यस्थल पर लंबे समय से नाइट शिफ्ट में काम करना पड़ रहा है, तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए चिंता का विषय हो सकता है।

एक नए शोध के मुताबिक, अनियमित घंटों की लगातार शिफ्ट से महिलाओं में सामान्य कैंसर होने का जोखिम बढ़ जाता है। शोधकर्ताओं ने पाया कि कुल मिलकार लंबे समय तक नाइट शिफ्ट करने से महिलाओं में कैंसर होने की संभावना 19 फीसदी तक बढ़ जाती है।

सभी पेशों के विश्लेषण करने के बाद शोधकर्ताओं ने पाया कि लंबे समय तक नाइट शिफ्ट करने से नर्सो में स्तन कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। 

चीन के चेंगदु स्थित सिचुआन विश्वविद्यालय के वेस्ट चाइना मेडिकल सेंटर में शोध के सह-लेखक शुईलेई मा ने बताया, 'हमारे शोध से पता चलता है कि कार्यस्थल पर नाइट शिफ्ट में काम करने से महिलाओं में कैंसर का जोखिम बढ़ जाता है।'

यह अध्ययन कैंसर एपिडेमियोलॉजी, बॉयोमार्कर एंड प्रीवेंसन पत्रिका में प्रकाशित किया गया है। 

शोध में पाया गया कि जो महिलाएं नाइट शिफ्ट में काम करती हैं, उनमें नाइट शिफ्ट में काम नहीं करनेवाली महिलाओं की तुलना में त्वचा कैंसर का खतरा 41 फीसदी, स्तन कैंसर का खतरा 32 फीसदी और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर का खतरा 18 फीसदी बढ़ जाता है। 

और पढ़ें: ठिठुरन भरी ठंड में बढ़ता है ब्रेन स्ट्रोक और हार्ट अटैक का खतरा

First Published: Tuesday, January 09, 2018 07:20 AM

RELATED TAG: Breast Cancer, Cancer, Night Shift,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो