देर रात तक करते हैं पढ़ाई तो एग्जाम में आ सकते हैं खराब मार्क्स!

स्टूडेंट्स के देर रात तक अध्ययन करने से खराब अंक आने की संभावना रहती है। ऐसे में विद्यार्थियों के अध्ययन के लिए प्राकृतिक रूप से समय का निर्धारण करना बेहतर होता है। ऐसे

  |   Updated On : March 30, 2018 09:16 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

न्यूयॉर्क:  

स्टूडेंट्स के देर रात तक अध्ययन करने से खराब अंक आने की संभावना रहती है। ऐसे में विद्यार्थियों के अध्ययन के लिए प्राकृतिक रूप से समय का निर्धारण करना बेहतर होता है। ऐसे विद्यार्थी, जिनकी समय सारिणी उनकी कक्षा के निर्धारण से मेल नहीं खाती, जैसे रात में जगने वाले स्टूडेंट्स सुबह की कक्षाओं में जाते हैं, तो उन्हें खराब अंक हासिल होते हैं।

कैलिफोर्निया-बर्कले विश्वविद्यालय में किए गए इससे संबंधित एक शोध के सह-लेखक बेंजामिन स्मार ने कहा, 'हमने पाया है कि ज्यादातर विद्यार्थी अपनी कक्षाओं के समय की वजह से पिछड़ जाते हैं, जो शैक्षिक प्रदर्शन में कमी के साथ गंभीरता से जुड़ा है।'

ये भी पढ़ें: एक ऐसी बीमारी, जिसमें गिरने-झुकने या छींकने से हो जाता है फ्रैक्चर!

इस निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए दल ने कैंपस सर्वर में लॉग करने वाले करीब 15,000 विद्यार्थियों की ऑनलाइन क्रियाविधि पर नजर रखीं।

इसमें विद्यार्थियों को उनकी कक्षा में नहीं होने और गतिविधियों के आधार पर बांटा गया। शोधकर्ताओं ने उनकी कक्षा के समय और अकादमिक नतीजों की तुलना की।

ये भी पढ़ें: 'NH-10', 'फिल्लौरी' और 'परी' के बाद तीन और फिल्में बनाएंगी अनुष्का

First Published: Friday, March 30, 2018 09:05 PM

RELATED TAG: Cbse Paper Leak,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो