VIDEO: खतरनाक है स्मॉग.. बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

घुएं और धुंध का जहरीला मिश्रण सांस के साथ शरीर के अंदर पहुंचने लगता है, जो काफी खतरनाक है।

  |   Updated On : November 08, 2017 08:39 PM

नई दिल्ली:  

दिल्ली और एनसीआर में दो दिन से घना कोहरा छाया हुआ है। यह धुंध 'स्मॉग' है, जो स्मोक और फॉग से मिलकर बना है। स्मॉग खतरनाक गैसों और कोहरे से मिलकर बनता है। इसका बुरा असर आपके स्वास्थ्य पर पड़ सकता है, लेकिन इससे बचने के कई तरीके हैं...

- कोशिश करें कि स्मॉग में बाहर ना निकलें। अगर आप बीमार हैं तो घर के बाहर बिल्कुल ना जाएं।

- सुबह के वक्त काफी स्मॉग होता है। अगर आप बाहर जाना आपकी मजबूरी है तो मास्क जरूर लगाएं।

- सर्दियों में लोग ठंड की वजह से पानी कम पीते हैं। यह खतरनाक साबित हो सकता है। दिनभर में 4 लीटर पानी पिएं।

- बाहर से आने के बाद मुंह को गुनगुने पानी से धोएं।

ये भी पढ़ें: दिल्ली और आसपास के इलाकों में छाया घना कोहरा, देखें तस्वीरों में 

- बाहर जाने से पहले पानी जरूर पिएं। इससे शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा सही होगी और कम नुकसान होगा।

स्मॉग से होने वाली समस्याएं

स्मॉग की वजह से खांसी, स्किन संबंधी रोग, नाक, कान, गले और फेफड़े में इंफेक्शन, दमा के रोगियों को अटैक, आंखों में जलन और बाल झड़ने की समस्या हो सकती है।

कैसे बनता है स्मॉग

गाड़ियों और फैक्ट्रियों से निकलने वाले धुएं में मौजूद राख, सल्फर, कार्बन डाई ऑक्साइड और नाइट्रोजन जैसी गैसें जब कोहरे के संपर्क में आती है तो स्मॉग बनता है। गर्मियों में स्मॉग ऊपर चला जाता है, लेकिन ठंड में ऐसा नहीं होता है।

घुएं और धुंध का जहरीला मिश्रण सांस के साथ शरीर के अंदर पहुंचने लगता है, जो काफी खतरनाक है। तेज हवा और बारिश के बाद ही स्मॉग का असर खत्म होता है।

ये भी पढ़ें: गुजरात चुनाव: नोटबंदी एक संगठित लूट है- मनमोहन सिंह

First Published: Tuesday, November 07, 2017 01:49 PM

RELATED TAG: Smog,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो