क्या कान की खराबी से होता है माइग्रेन?

माइग्रेन से पीड़ित लोगों को कान बजने की शिकायत के साथ-साथ कान के भीतरी हिस्से में कोई विकार या कमी भी हो सकता है।

  |   Updated On : July 14, 2018 10:12 AM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

ताइपे:  

माइग्रेन से पीड़ित लोगों को कान बजने की शिकायत के साथ-साथ कान के भीतरी हिस्से में कोई समस्या भी हो सकता है। यह बात एक हालिया शोध में सामने आई है। माइग्रेन एक तरह की बीमारी है, जिसमें आधे सिर में दर्द की शिकायत होती है। शोधकर्ताओं ने पाया कि कान की तंत्रिका (Nerve) में खराबी के कारण माइग्रेन की शिकायत हो सकती है। खासतौर से माइग्रेन के मरीजों में कान बजने की शिकायत ज्यादा होती है।

ताईवान के डलिन त्जू ची अस्पताल के जुएन हाउर व्हांग समेत शोधकर्ताओं ने कहा, 'शोध से कान की तंत्रिका यानी कॉक्लीयर माइग्रेन के बारे में पता लगाने में मदद मिल सकती है।'

कान की तंत्रिका संबंधी खराबी से कान का भीतरी हिस्सा प्रभावित होता है। इसी हिस्से में झनझनाहट या कान बजने की शिकायत होती है जिसे सेंसोरीन्यूरल हियरिंग इंपेयरमेंट कहते हैं। इससे अचानक बहरापन भी पैदा हो सकता है।

और पढ़ें- 2019 से पहले साम्प्रदायिक तनाव पैदा हुआ तो कांग्रेस होगी ज़िम्मेदार: बीजेपी

यह शोध जामा ऑटोलेरिंगोलोजी जर्नल में प्रकाशित हुआ है। शोध में शामिल लोगों में 1,056 मरीज शामिल थे, जिन्हें माइग्रेन की शिकायत थी। इसके अलावा टीम में 4,224 लोग ऐसे थे जिन्हें माइग्रेन की शिकायत नहीं थी।

माइग्रेन के मरीजों में कान की खराबी, माइग्रेन रहित लोगों की तुलना में 12.2 फीसदी अधिक पाई गई।

और पढ़ें- अयोध्या भूमि विवाद: राजीव धवन ने कहा-हिंदू तालिबान ने तोड़ी बाबरी मस्जिद

First Published: Saturday, July 14, 2018 09:47 AM

RELATED TAG: Migraine, Health, Reasons Behind Migraine, Lifestyle,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो