International Yoga Day: मोटापे को इन आसनों से कहें अलविदा, शरीर में लचीलापन बढ़ाकर पाएं फिट बॉडी

योग भारतीय ज्ञान की पांच हजार साल पुरानी शैली है। योग न सिर्फ मांसपेशियों को मज़बूत करता है बल्कि दिमागी सेहत के लिए भी बेहद फायदेमंद है।

  |   Updated On : June 20, 2018 11:37 PM
अंतराष्ट्रीय योग दिवस (IANS)

अंतराष्ट्रीय योग दिवस (IANS)

नई दिल्ली :  

दुनियाभर हर साल 21 जून को अंतराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस मौके पर कल देहरादून में पीएम मोदी हज़ारों वॉलंटियर्स के साथ योगासन कर फिटनेस का मंत्र देंगे।

योग भारतीय ज्ञान की पांच हजार साल पुरानी शैली है। योग न सिर्फ मांसपेशियों को मज़बूत करता है बल्कि दिमागी सेहत के लिए भी बेहद फायदेमंद है।

योग कई शारीरिक समस्याओं का रामबाण है। योग दिवस मनाने का मकसद योग से दीर्घ आयु प्रदान करना है। दुनियाभर में जागरूकता फ़ैलाने के लिए हर साल 21 जून को योग दिवस मनाया जाता है।

लगातार नियमित रूप से योग अभ्यास सेहत में सुधार लाने में मदद करता है। अलग-अलग रोगों के लिए अलग तरह के आसन है जो कि बेहद फायदेमंद है। आजकल की भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में मोटापे की समस्या अधिकतर लोगों को जकड़ रही है।

घंटों जिम में पसीना बहाने या फिर डाइटिंग के बिना ही बढ़ते वजन को योगासनों की मदद से काबू में किया जा सकता है।

और पढ़ें: International Yoga Day: कल पूरे विश्व में मनाया जाएगा योग दिवस, जानें खास बातें

सूर्य नमस्कार

सूर्य नमस्कार

सूर्य नमस्कार का मतलब है सूर्य को नमस्कार करना। सूर्य नमस्कार से शरीर पर बढ़ती आयु के प्रभाव को रोका जा सकता है और यह चेहरे तथा शरीर पर बुढ़ापे के चिन्हों के प्रभाव को रोकने में मददगार साबित होता है। सूर्य नमस्कार से मन और शरीर दोनों तंदुरुस्त रहते है।

अधोमुख शवासन

अधोमुख शवासन

इस आसन के करने से शरीर ललीचा हो जाता हैं और बदन में दर्द नहीं रहता। इससे न सिर्फ रीढ़ की हड्डियों में आराम मिलता है बल्कि पीठ के नीचले, बीच और उपरी भाग में हो रहे दर्द से आराम देता है। ये आसन करना बेहद आसन है।

नौकासन

नौकासन

नौकासन पीठ के बल लेट कर किये जाने वाले आसनों में एक महत्वपूर्ण योगासन है। नौकासन पेट की चर्बी को कम करने के लिए बहुत ही बढ़िया योगाभ्यास है। अगर इसका नियमित रूप से प्रैक्टिस किया जाये तो बहुत जल्द आप पेट की चर्बी से छुटकारा पा सकते हैं।

शशांकासन

शशांकासन

नियमित शशांकासन करने से हृदय रोग, मधुमेह और दमा रोग से दूर रहते हैं। इस आसन को करने से मोटापा और अत्यधिक चर्बी शरीर में जमा नहीं होती है।नियमित रूप से करने से तनाव और चिंता से मुक्त रहते है और क्रोध भी शांत रहता है।

अर्ध हलासन

अर्ध हलासन

अर्ध हलासन करने से मोटापा या बड़ा हुआ वजन कम करने में मददगार है।

सर्वांगासन

सर्वांगासन

सर्वांगासन सिर की बीमारियों के साथ थायराइड को सक्रिय और स्वस्थ बनाता है। मोटापा, दुर्बलता, कद वृद्धि की कमी और थकान आदि विकार दूर होते हैं।

First Published: Wednesday, June 20, 2018 10:58 PM

RELATED TAG: International Yoga Day 2018, Obesity, Weight Loss,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो