BREAKING NEWS
  • दिल्ली यूनिवर्सिटी में UG Admissions के लिए Cut Off List 28 जून को होगा जारी, यहां पढ़ें पूरी detail- Read More »
  • ICC World Cup 2019: वर्ल्ड कप में जारी है टीम इंडिया की ओपनिंग जोड़ी का जलवा, बैटिंग एवरेज में हैं Top पर- Read More »
  • Sensex Today: शेयर बाजार में कमजोरी, सेंसेक्स 70 प्वाइंट गिरकर खुला, निफ्टी 11,650 के नीचे- Read More »

मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करती है अशांत नींद

IANS  |   Updated On : June 11, 2019 07:06 AM

न्यूयॉर्क:  

एक अध्ययन के अनुसार, त्रासदी के दो साल बाद भी प्राकृतिक आपदा से बचे लोगों में नींद की गड़बड़ी मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से जुड़ी है. स्लीप पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन में लगभग 31 वर्षों की औसत आयु वाले 165 प्रतिभागी (52 प्रतिशत पुरुष) शामिल थे. प्रतिभागी 2010 के भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में से एक पोर्ट-ए-प्रिंस हैती में रह रहे थे. सर्वेक्षण के अनुसार, यह देश के इतिहास में सबसे विनाशकारी भूकंप था. आपदा ने लगभग दो लाख लोगों को मार डाला और 10 लाख से अधिक निवासियों को विस्थापित होने पर मजबूर होना पड़ा.

न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय से अध्ययन के प्रमुख लेखक जूडिट ब्लैंक ने कहा, '2010 के हैती भूकंप के बचे लोगों में नींद की गड़बड़ी की व्यापकता की जांच करने वाला यह पहला महामारी विज्ञान का अध्ययन है.'

ब्लैंक ने कहा, 'हमारे अध्ययन में सामान्य आघात से संबंधित विकारों और जीवित बचे लोगों के समूह के मध्य कोमोरिड नींद की स्थिति के बीच मजबूत संबंध को रेखांकित किया गया है.'

ये भी पढ़ें: युवा तेजी से हो रहे नोमोफोबिया के शिकार, जानें इससे बचने के उपाय

शोधकर्ताओं ने भूकंप के बाद दो साल तक जीवित रहने वालों का सर्वेक्षण किया और पाया कि 94 प्रतिशत प्रतिभागियों ने अनिद्रा के लक्षणों और आपदा के बाद के जोखिम का अनुभव किया.

दो साल बाद 42 प्रतिशत में पोस्ट-ट्रॉमेटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर (पीटीएसडी) का महत्वपूर्ण स्तर दिखा. लगभग 22 प्रतिशत में अवसाद के लक्षण थे.

First Published: Monday, June 10, 2019 06:35 AM

RELATED TAG: Mental Health, Mental Health Problems, Study, Sleep, Journal Sleep, Health News,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो