सावधान! टूथपेस्ट में मिले कैमिकल से हो सकता है कोलन कैंसर का खतरा

टूथपेस्ट और हाथ धोने के साबुन सहित दूसरे उपभोक्ता उत्पादों में एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और ट्राइक्लोसन के इस्तेमाल से कोलन में सूजन और कैंसर पैदा हो सकता है।

  |   Updated On : June 01, 2018 09:05 PM
टूथपेस्ट से कोलन कैंसर का खतरा: शोध

टूथपेस्ट से कोलन कैंसर का खतरा: शोध

न्यूयॉर्क:  

टूथपेस्ट और हाथ धोने के साबुन सहित दूसरे उपभोक्ता उत्पादों में जीवाणुरोधी (एंटीबैक्टीरियल) व कवकरोधी (एंटीफंगल) ट्राइक्लोसन के इस्तेमाल से कोलन (बड़ी आंत) में सूजन और कैंसर पैदा हो सकता है। शोध के दौरान ट्राइक्लोसन का प्रयोग चूहों पर किया गया।

शोध के निष्कर्ष में कहा गया है कि थोड़े समय के लिए ट्राइक्लोसन की कम मात्रा से कोलन से जुड़ी सूजन शुरू हुई और कोलाइटिस से जुड़ी बीमारी बढ़ने लगी और कोलन से जुड़ा हुआ कैंसर चूहों में देखा गया।

शोध के निष्कर्ष का प्रकाशन पत्रिका 'साइंस ट्रांस्लेशनल मेडिसीन' में किया गया है।

और पढ़ें: खाने-एक्सरसाइज से ही नहीं, ये काम करके भी रह सकते हैं फिट

अमेरिका के मैसाचुएट्स-एमहेस्र्ट विश्वविद्यालय के गुओडोंग झांग ने कहा, 'इन परिणामों से पहली बार पता चला है कि ट्राइक्लोसन का आंत के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है।'

पिछले शोध से पता चला था कि ट्राइक्लोसन की अधिक मात्रा का जहरीला प्रभाव पड़ता है, लेकिन स्वास्थ्य पर इसके कम मात्रा का प्रभाव अस्पष्ट था।

इस नए शोध के लिए टीम ने चूहों को ट्राइक्लोसन की विभिन्न मात्रा वाले आहार खिलाया।

इसके परिणामों से पता चलता है कि मानव के खून के नमूनों की मात्रा वाले ट्राइक्लोसन की मात्रा चूहों पर इस्तेमाल करने से नियंत्रित जानवरों (चूहों) की तुलना में कोलन की सूजन ज्यादा विकसित दिखाई देती है।

इसके बाद और ट्राइक्लोसन के इस्तेमाल से चूहों में कोलन संबंधी सूजन और गंभीर हो गई।

और पढ़ें: चीन को 15 लाख टन चीनी बेच सकता है भारत

First Published: Friday, June 01, 2018 08:50 PM

RELATED TAG: Toothpaste, Cancer, Chemical, Colon Cancer,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो