हरियाणा छेड़छाड़ मामला: सुभाष बराला ने कहा, वर्णिका मेरी बेटी जैसी, कानून अपना काम करेगा

वरिष्ठ आईएएस अधिकारी की बेटी के साथ छेड़छाड़ मामले में हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला ने मंगलवार को अपनी चुप्पी तोड़ी।

  |   Updated On : August 08, 2017 11:06 PM
बीजेपी हमारी बेटियों की स्वतंत्रता का समर्थन करती है: सुभाष बराला

बीजेपी हमारी बेटियों की स्वतंत्रता का समर्थन करती है: सुभाष बराला

ख़ास बातें
  •  बेटे के द्वारा छेड़छाड़ मामले में बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला ने चुप्पी तोड़ी
  •  बीजेपी हमारी बेटियों की स्वतंत्रता का समर्थन करती है: बराला
  •  आईपीसी की धारा 354 डी के तहत स्टॉकिंग का केस दर्ज हुआ था

नई दिल्ली:  

वरिष्ठ आईएएस अधिकारी की बेटी के साथ छेड़छाड़ मामले में हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला ने मंगलवार को अपनी चुप्पी तोड़ी। उन्होंने कहा कि मामले में कानून अपना काम करेगा, और उनकी तरफ से या उनकी पार्टी की तरफ से पुलिस पर कोई दबाव नहीं है।

बराला ने कहा, 'वर्णिका को न्याय दिलाने के लिए, विकास और आशीष के खिलाफ नियमानुसार वे सभी कदम उठाए जाने चाहिए, जिनकी जरूरत है।'

अपनी पार्टी और सरकार की तरफ से बयान जारी करने के दबाव में दिखे बराला ने कहा, 'बीजेपी हमारी बेटियों की स्वतंत्रता का समर्थन करती है। वर्णिका कुंडू मेरी बेटी जैसी है। इस मामले में मेरी तरफ से या मेरी पार्टी की तरफ से किसी पर कोई दबाव नहीं है। मामले में कार्रवाई नियमानुसार जारी है।'

सुभाष बराला के बेटे विकास बराला व उसके दोस्त आशीष की चार दिन पहले हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव वी.एस.कुंडू की बेटी वर्णिका कुंडू का पीछा करने के मामले में गिरफ्तारी हुई थी। तब से वह मीडिया का सामना करने से बच रहे थे। मंगलवार को वह मीडिया के सामने आए और उन्होंने संक्षिप्त बयान दिया।

चंडीगढ़ पुलिस ने शनिवार को विकास और आशीष को महिला का पीछा करने के मामले में गिरफ्तार किया था। घटना के समय दोनों नशे में थे। पुलिस ने कमजोर धाराओं में मामला दर्ज किया, जिससे दोनों कुछ ही घंटे में जमानत पर छूट गए।

वर्णिका ने आरोप लगाया है कि दोनों ने उसके अपहरण की कोशिश की थी। चंडीगढ़ पुलिस का रवैया इस मामले में सवालों के घेरे में रहा है। उस पर वीआईपी की बिगड़ैल औलाद को बचाने के आरोप लगे हैं।

विपक्षी दलों ने सुभाष बराला को बीजेपी अध्यक्ष पद से हटाने की मांग की है। लेकिन, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का कहना है कि घटना का संबंध व्यक्तिगत है, सुभाष बराला का इससे कोई लेना-देना नहीं है।

और पढ़ें: हरियाणा में बीजेपी नेता पर एंबुलेंस रोकने का लगा आरोप, मरीज की मौत (Video)

First Published: Tuesday, August 08, 2017 06:25 PM

RELATED TAG: Haryana, Haryana Stalking Case, Subhash Barala, Vikas Barala, Haryana Bjp, Varnika Kundu, Haryana Police, Congress, Ipc 354d,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो