गुजरात: पाटीदार आरक्षण पर फंसा पेच, हार्दिक के संगठन ने कांग्रेस को दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम

ज्यों-ज्यों गुजरात विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं, हार्दिक पटेल की पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पीएएएस) अपनी मांगों को लेकर मुखर होती जा रही है।

  |   Updated On : November 18, 2017 02:49 PM
पाटीदार नेता हार्दिक पटेल (फाइल फोटो)

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  पाटीदार आरक्षण की मांग को लेकर पीएएएस ने कांग्रेस को दिया अल्टीमेटम
  •  पाटीदार नेता ने कहा, ये बताए कि बातचीत के लिए न्यौता देकर हमारा मजाक क्यों उड़ाया
  •  गुजरात विधानसभा चुनावों में सीटों को लेकर भी कांग्रेस और पीएएएस के बीच हो रही है बात

नई दिल्ली:  

ज्यों-ज्यों गुजरात विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं, हार्दिक पटेल की पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पीएएएस) अपनी मांगों को लेकर मुखर होती जा रही है।

पीएएएस ने अब कांग्रेस को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है और बातचीत टूटने की ओर इशारा किया है।

इससे पहले शुक्रवार को देर रात 11:30 बजे से 2 बजे तक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल और पीएएएस के 13 सदस्यों के बीच बैठक हुई। लेकिन आरक्षण पर कोई सहमति नहीं बन पाई।

पटेल आरक्षण पर बातचीत के प्रभारी और पीएएएस के सदस्य दिनेश बामनिया ने कहा, 'कांग्रेस ने हमें मिलने के लिए बुलाया, लेकिन पूरे दिन हमें मिलने का समय नहीं दिया, प्रदेश अध्यक्ष दिल्ली में होने के बावजूद हमसे बात नहीं कर रहे, कांग्रेस ने हमारी बेइज्जती की है।'

उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के लोग हमसे फोन पर भी बात नहीं करना चाहते। 24 घंटे में कांग्रेस आरक्षण पर अपना रुख साफ करे और ये बताए कि बातचीत के लिए न्यौता देकर हमारा मजाक क्यों उड़ाया, नहीं तो पीएएएस गुजरात मे कांग्रेस का जबरदस्त विरोध करेगी।'

बामनिया ने कहा कि कांग्रेस ने हमलोगों को सुप्रीम कोर्ट के फैसले समेत कई दस्तावेज दिखाए और आरक्षण के लिए तीन ऑप्शन दिये। उन्होंने कहा कि हम ओबीसी, एससी और एसटी के आरक्षण से छेड़छाड़ नहीं चाहते हैं।

और पढ़ें: शरद पवार बोले, राहुल गांधी की बदलती छवि से पीएम मोदी डरे

आपको बता दें कि हार्दिक पटेल ने आरक्षण मिलने की शर्त पर गुजरात विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को समर्थन देने का वादा किया है। वहीं कांग्रेस ने कहा है कि वह सत्ता में आई तो पाटीदारों को संवैधानिक रूप से आरक्षण दिया जाएगा।

इसके लिए हार्दिक पटेल की मांग पर कांग्रेस ने वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल को आरक्षण की कानूनी पहलू पर राय रखने और बातचीत के लिए कहा है। हालांकि आरक्षण देने को लेकर अभी तक फॉर्मूला नहीं बन पाया है।

चुनावों में बीजेपी के वोटबैंक रहे पाटीदार ने दो साल पहले सरकारी नौकरी और शिक्षा में आरक्षण की मांग की थी। 

पाटीदार बीते दो सालों से गुजरात में सत्तारूढ़ बीजेपी से आरक्षण के दर्जे की मांग कर रहे हैं। हार्दिक पटेल का अब तक बीजेपी के विरोध में सुर रहा है। पिछले दिनों सेक्स सीडी आने के बाद हार्दिक पटेल ने बीजेपी पर साजिश का आरोप लगाया था।

पाटीदार नेताओं का कहना है कि चाहे वह कांग्रेस का समर्थन करें या न करे, मगर वे निश्चित तौर पर बीजेपी का विरोध करेंगे।

सीटों पर कांग्रेस से बात

कांग्रेस पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पीएएएस) के नेताओं के साथ और हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए ओबीसी समुदाय के नेता अल्पेश ठाकोर के साथ दिल्ली में शुक्रवार को गहन बैठक हुई।

कांग्रेस पार्टी के सूत्रों ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) द्वारा शुक्रवार को गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए अपने 70 उम्मीदवारों की सूची घोषित करने के बाद कांग्रेस सीईसी भी शुक्रवार देर शाम तक सूची जारी कर सकती है।

राज्य विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 21 नवंबर है।

और पढ़ेें: 'पद्मावती' विवाद में थरूर के बयान पर भड़के हिमाचल सीएम वीरभ्रद्र सिंह

First Published: Saturday, November 18, 2017 11:36 AM

RELATED TAG: Gujarat Election 2017, Hardik Patel, Congress, Quota, Patidar,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो