अब फिल्मों में मिलेंगे भरपूर बोल्ड सीन्स जानें क्यों

फिल्मों में अब एडल्ट कंटेंट की काटं-छांट नहीं होगी। सेंसर बोर्ड और फिल्ममेकर्स के बीच बढ़ रही तनातनी अब खत्म होने की कगार पर है।

  |   Updated On : November 09, 2016 10:49 PM
अब बैडरूम-बोल्ड सीन्स पर नहीं चलेगी कैंची

अब बैडरूम-बोल्ड सीन्स पर नहीं चलेगी कैंची

नई दिल्ली:  

फिल्मों में अब एडल्ट कंटेंट की काटं-छांट नहीं होगी। सेंसर बोर्ड और फिल्ममेकर्स के बीच बढ़ रही तनातनी अब खत्म होने की कगार पर है। फिल्म सेंसर बोर्ड (CBFC) ने श्याम बेनेगल कमेटी की ओर से फिल्मों की कैटगरी बढ़ाने के सुझाव पर अमल करने का मन बना लिया है। जी हां, इसका मतलब अब दर्शक फिल्मों में बैडरूम और बोल्ड सीन्स देख सकेंगे।

खबरों के अनुसार, सेंसर बोर्ड फिल्मों में एडल्ट सीन्स की कांट झांट की बजाए उन्हें नई कैटेगरी में शामिल करने की बात पर राजी हो गई है। इस समय ‘ए’ और ‘यूए’ सर्टिफिकेट को लेकर फिल्ममेकर्स और सेंसर बोर्ड के बीच कई बार नोक झोंक की खबरें भी सुर्ख‍ियों में रही।

ये भी पढ़ें, इन दिनों दूसरों से पैसे मांग रही हैं बिपाशा

आपको बता दें ​कि किसिंग सीन, सेक्शुअल कंटेट से लेकर गाली ग्लोच वाले कंटेट को सेंसर बोर्ड की तरफ से ‘ए’ कैटेगरी में शामिल किया गया है। लेकिन इन दिनों अमूमन सभी फिल्मों में इस तरह का कंटेंट शामिल है। इसलिए इस तरह की फिल्मों के लिए डायरेक्टर, प्रोड्यूसर ‘यूए’ सर्टिफिकेट के लिए सेंसर बोर्ड से भि‍ड़ते नजर आते हैं।

ये भी पढ़ें, 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' की अक्षरा की मौत!

इसलिए सेंसर बोर्ड ने बोल्ड और न्यूड कंटेट वाली फिल्मों को लेकर कई और श्रेणियों को शामिल करने का फैसला लिया है। सेंसर बोर्ड जल्द इन नई कैटगरी के सुझाव को सूचना एवम प्रसारण मंत्रालय के पास भेजेगी।

First Published: Wednesday, November 09, 2016 10:33 PM

RELATED TAG: Cbfc, Adult Movies,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो