दिग्विजय सिंह का बीजेपी पर आरोप, 'गोवा में सत्ता के लिए पैसे का इस्तेमाल किया'

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी पर गोवा में सत्ता के लिए छोटे दलों और निर्दलीय विधायकों को लुभाने को लेकर निशाना साधा। उन्होंने गोवा में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी कांग्रेस को सत्ता से दूर रखने के लिए भाजपा को आड़े हाथों लिया।

  |   Updated On : March 13, 2017 01:36 PM

नई दिल्ली:  

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी पर गोवा में सत्ता के लिए छोटे दलों और निर्दलीय विधायकों को लुभाने को लेकर निशाना साधा। उन्होंने गोवा में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी कांग्रेस को सत्ता से दूर रखने के लिए भाजपा को आड़े हाथों लिया।

सिंह ने ट्वीट किया, 'पैसे की ताकत ने लोगों की ताकत पर विजय हासिल की है। मैं गोवा के लोगों से माफी मांगता हूं क्योंकि हम सरकार बनाने के लिए समर्थन नहीं दे सकते।' दिग्विजय सिंह ने कहा कि गोवा में पैसे की राजनीति और संप्रदायिक ताकतों के खिलाफ कांग्रेस का संघर्ष जारी रहेगा।उन्होंने लोगों को होली की शुभकामनाएं दी और देश में भाईचारे कायम रखने की कामना की।

रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर को भाजपा की तरफ से गोवा के नए मुख्यमंत्री के तौर पर दावा पेश किया गया है। उन्होंने विधानसभा के 40 सदस्यों में से 21 के समर्थन का दावा किया है।

राज्य में कांग्रेस 17 सीटों के साथ सबसे बड़े दल के रूप में सामने आई है। हालांकि यह संख्या सरकार बनाने के लिए पर्याप्त नहीं है। भाजपा ने 13 सीटों के साथ दूसरी छोटी पार्टियों और निर्दलीय के साथ गठबंधन कर सरकार बनाने के लिए जरूरी 21 का आंकड़ा प्राप्त कर लिया है। गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने पार्रिकर से शपथ लेने के 15 दिनों बाद गोवा विधानसभा में बहुमत हासिल करने को कहा है।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने सोमवार को कहा कि दूसरे नंबर पर आने वाली पार्टी को सरकार बनाने का कोई अधिकार नहीं है। साथ ही उन्होंने मणिपुर और गोवा में जोरतोड़ कर सरकार बनाने का आरोप लगाया। चिदंबरम ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के माध्यम से कहा, 'दूसरे नंबर पर आने वाली पार्टी को सरकार बनाने का कोई अधिकार नहीं है। भाजपा ने गोवा और मणिपुर में सरकार बनाने के लिए जोरतोड़ की है।'

गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने रविवार को रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को गोवा के नए मुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त किया। साथ ही उन्हें गोवा विधानसभा में बहुमत साबित करने को कहा है।

और पढ़ें: 21 विधायकों के साथ राज्यपाल से मिलकर मनोहर पर्रिकर ने सरकार बनाने का दावा पेश किया

गोवा विधानसभा में 40 सदस्य हैं, जिसमें से पार्रिकर को 21 विधायकों का समर्थन प्राप्त है। भाजपा के 13 विधायक है। उसे गोवा फॉरवर्ड पार्टी व महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी के तीन-तीन विधायकों और दो निर्दलीय विधायकों का समर्थन मिला है।

संभावना है कि मणिपुर में राज्यपाल नजमा हेपतुल्ला सरकार गठन के लिए सोमवार को भाजपा नेताओं को आमंत्रित करेगी। मणिपुर में 60 विधानसभा सीटें हैं जिसमें भाजपा को 32 विधायकों का समर्थन मिल रहा है। भाजपा ने रविवार को राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया।

और पढ़ें:दिग्विजय सिंह ने कहा- कांग्रेस के खराब प्रदर्शन से नहीं घटेगा का राहुल गांधी का कद

मणिपुर में भाजपा ने विधानसभा में 21 सीटें जीती है। वहीं नागा पीपुल्स फ्रंट और नेशनल पीपल्स फ्रंट के चार-चार विधायकों तथा एआईटीसी, लोजपा के एक-एक और एक निर्दलीय विधायक का भाजपा को समर्थन मिला है।

 और पढ़ें: भारतीय कप्तान विराट कोहली का होली पर 'पशु प्रेम', जानवरों को परेशान न करने का दिया संदेश

First Published: Monday, March 13, 2017 01:24 PM

RELATED TAG: Bjp, Digvijay Singh,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो