शशि थरूर का PM मोदी को चैलेंज, बोले- साहस है तो केरल या तमिलनाडु से चुनाव लड़ें

News State Bureau  |   Updated On : April 08, 2019 07:12:49 AM
शशि थरूर (फाइल फोटो)

शशि थरूर (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

2019 के चुनावी महासमर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दो लोकसभा सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं. इस बार वो उत्तर प्रदेश की अमेठी और केरल की वायनाड सीट से चुनावी मैदान में हैं. राहुल गांधी के दो जगह से चुनाव लड़ने को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) उनपर हमलावर है. लेकिन अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती दी है. थरूर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में क्या केरल या तमिलनाडु की किसी सीट से चुनाव लड़ने का साहस है ?

यह भी पढ़ें- मायावती ने मुसलमानों को SP-BSP-RLD को वोट देने को कहा, चुनाव आयोग हुआ सख्त, तलब की रिपोर्ट

राहुल गांधी के अमेठी के अलावा वायनाड सीट से चुनाव लड़ने पर शशि थरूर ने कहा कि वायनाड से लोकसभा चुनाव में खड़े होने का पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी का फैसला उत्तर भारत और दक्षिण भारत, दोनों में जीत का उनका विश्वास दिखाता है. उन्होंने कहा कि वायनाड से राहुल के चुनाव में खड़े होने के बाद दक्षिणी राज्यों में इस बात को लेकर उत्साह दिख रहा है कि अगला प्रधानमंत्री उनके क्षेत्र से निर्वाचित उम्मीदवार हो सकता है.

यह भी पढ़ें- चुनावी हलचल Live: लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर आज बीजेपी करेगी अपना घोषणा पत्र जारी

इसके साथ ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने नरेंद्र मोदी और बीजेपी के उस बयान की निंदा की, जिसमें उन्होंने कहा था कि राहुल गांधी ने बहुसंख्यक बहुल क्षेत्रों से 'भागने' के लिए वायनाड को चुना. थरूर ने कहा, 'सत्ताधारी पार्टी कट्टरता फैलाने की कोशिश कर रही है. यह निराशाजनक है कि यह प्रधानमंत्री कर रहे हैं. प्रधानमंत्री को सभी भारतीयों का प्रधानमंत्री होना चाहिए, लेकिन उन्होंने बीजेपी की कट्टरता के पथप्रदर्शक के रूप में अपनी भूमिका को मजबूत करके इस सिद्धांतवादी पद की गरिमा को ठेस पहुंचाई है.'

यह भी पढ़ें- ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, बोलीं दिल्ली के बाबू पहाड़ों पर आग लगाते हैं और हम उसे बुझाते हैं

थरूर ने कहा कि ऐसे में राहुल गांधी ने इस आशय का साहसिक संकेत दिया है कि वह देश में उत्तर और दक्षिण के बीच बढ़ती खाई पाटने के लिए पुल का काम कर सकते हैं. यह इस बात का भी संकेत है कि कांग्रेस प्रमुख को उत्तर और दक्षिण दोनों में चुनाव में जीत मिलने का भरोसा है. उन्होंने कहा, ‘क्या नरेंद्र मोदी ऐसा दावा कर सकते हैं? क्या उनमें केरल या तमिलनाडु की किसी सीट से चुनाव में खड़े होने का साहस है ?’

First Published: Apr 08, 2019 07:12:46 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो