राजीव गांधी को भ्रष्‍टाचारी नंबर 1 कहने के मामले में भी पीएम मोदी को चुनाव आयोग की क्लीन चिट

News State Bureau  |   Updated On : May 08, 2019 08:12:41 AM
पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  चुनाव आयोग ने पीएम मोदी को दिया क्लीन चिट
  •  राजीव गांधी पर पीएम मोदी ने की थी टिप्पणी
  •  कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का खटखटाया दरवाजा

नई दिल्ली:  

चुनाव आयोग ने पीएम मोदी को एक बार फिर से क्लीन चिट दे दिया है. राजीव गांधी पर टिप्पणी करने के मामले में चुनाव आयोग ने उन्हें क्लीन चिट दी है. चुनाव आयोग ने कहा कि प्प्रथम दृष्टया, हमने आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का पता नहीं लगाया जैसा कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों में दिया गया है. इसलिए मामले का निपटारा किया जाता है.' इस तरह चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10वें मामले में भी क्‍लीन चिट दे दी है. 

बता दें कि पीएम मोदी ने अपने एक भाषण में राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर 1 बताया था. मोदी ने कहा, 'आपके (राहुल गांधी) पिता को उनके दरबारियों द्वारा 'मिस्टर क्लीन' बुलाया जाता था, लेकिन उनका जीवन 'भ्रष्टाचारी नंबर 1' के रूप में समाप्त हुआ.'

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल में बीजेपी के दो नेताओं के काफिले पर हमला, TMC पर आरोप

जिसे लेकर कांग्रेस चुनाव आयोग गई थी. इसके बाद कांग्रेस आज यानी मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट इस मामले को लेकर गई है. सर्वोच्च न्यायालय के समक्ष पेश एक अतिरिक्त हलफनामे में, चुनाव आयोग द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को आदर्श आचार संहिता उल्लंघन मामले में क्लीन चिट देने के विरुद्ध अदालत पहुंची कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने कहा, 'दोनों के द्वारा दिए गए भाषणों को जनप्रतिनिधि अधिनियम 1951 के अनुच्छेद 123ए के तहत 'भ्रष्ट आचरण' घोषित किया जाना चाहिए.'

First Published: May 07, 2019 09:52:37 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो