BREAKING NEWS
  • Ind Vs Pak: मैन ऑफ द मैच रोहित शर्मा का बल्‍ला गरजा तो बादलों ने साध ली चुप्‍पी, जानें 7-0 से जीत के सभी नायकों को- Read More »
  • IND vs PAK Live Cricket Score: बारिश के बाद 40 ओवर का हुआ मैच, पाकिस्तान को 5 ओवर में चाहिए 130 रन- Read More »
  • IND Vs Pak: 31-35 ओवर की कहानीः पाकिस्‍तान पर 7-0 की लीड लेने में 4 विकेट दूर इंडिया- Read More »

'उनके अली तो हमारे बजरंग बली'- योगी आदित्यनाथ के इस बयान पर BJP ने चुनाव आयोग से की यह मांग

News State Bureau  |   Updated On : April 15, 2019 08:09 PM
सीएम योगी ने कहा था, उनके अली तो हमारे बजरंगबली

सीएम योगी ने कहा था, उनके अली तो हमारे बजरंगबली

नई दिल्ली:  

भारतीय जनता पार्टी ने निर्वाचन आयोग से योगी आदित्यनाथ पर 72 घंटे का लगा प्रतिबंध हटाने की मांग की है. आयोग ने 'उनके अली तो हमारे बजरंगबली' कहकर सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के प्रयास की शिकायत पर कार्रवाई की है. बीजेपी के स्टार प्रचारक योगी अभी चुनाव प्रचार व प्रेसवार्ता नहीं कर पाएंगे. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा, "हमारी पार्टी एक अनुशासित राजनीतिक दल है और हम भारतीय निर्वाचन आयोग के हर निर्णय का सम्मान करते हैं. लेकिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहीं भी किसी भी प्रकार से न तो कहीं धार्मिक भावनाओं को भड़काने का काम किया और न ही धार्मिक उन्माद फैलाने वाला बयान दिया. बल्कि योगी ने सिर्फ अपने आराध्य का नाम लिया है."

डॉ. पांडेय ने कहा कि दूसरी तरफ बसपा प्रमुख मायावती और सपा नेता आजम खां ने धार्मिक आधार पर वोट मांगा और वोटों के लिए धार्मिक उन्माद भी फैलाने का प्रयास किया. आजम खां ने तो सामान्य मानवीय मूल्यों की पराकाष्ठा पार करते हुए अभद्र व अमर्यादित भाषा का उपयोग किया. कार्रवाई तो ऐसे लोगों के खिलाफ होनी चाहिए, न कि मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ.

यह भी पढ़ें- Lok Sabha Election 2019: जानिए राजनीति में शामिल होने की बात पर क्या बोले रॉबर्ट वाड्रा

उन्होंने निर्वाचन आयोग से अपील की है कि मुख्यमंत्री योगी पर 72 घंटे का प्रतिबंध लगाए जाने के अपने निर्णय पर पुनर्विचार करते हुए प्रतिबंध को समाप्त करे. निर्वाचन आयोग ने मायावती पर भी 48 घंटे का प्रतिबंध लगाया है और आजम खां के खिलाफ मामला दर्ज हो चुका है.

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी ने बीते दिनों चुनावी जनसभाओं में विपक्षी दलों पर तीखे शब्दों का प्रयोग करते हुए हमला बोला था. उन्होंने 'अली-बजरंगबली' वाला बयान देने के अलावा भारत की सेना को 'मोदीजी की सेना' कहा था. इसका संज्ञान लेते हुए निर्वाचन आयोग ने सोमवार को योगी पर जनसभा या प्रेसवार्ता करने पर 16 अप्रैल की सुबह 6 बजे से 72 घंटे के लिए प्रतिबंध लगा दिया है.

First Published: Monday, April 15, 2019 08:07 PM

RELATED TAG: Election Commission, Bjp, Bharatiya Janata Party, Yogi Adityanath, Lok Sabha Elections 2019, Lok Sabha Elections, Azam Khan,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो