BREAKING NEWS
  • जयपुर के चौमू में झांकी निकालने को लेकर चले लाठी-डंडे और पत्थर, पुलिसकर्मी समेत आधा दर्जन लोग घायल- Read More »
  • राजस्थान में बीजेपी और कांग्रेस का लक्ष्य मिशन 25, लेकिन राजपूत सभा के नेता के बिना संभव नहीं, जानें कौन हैं ये- Read More »
  • Lok Sabha Election 2019 : केसी त्यागी बोले, मुलायम सिंह यादव से सपा को खतरा, जानें क्या है मामला- Read More »

जब पीएम मोदी ने 27 साल पहले आतंकियों को था ललकारा - देखते हैं किसने मां का दूध पिया है

News State Bureau  |   Updated On : March 16, 2019 12:17 AM
पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

लोकसभा चुनाव के ऐलान के साथ ही बीजेपी, कांग्रेस समेत सभी पार्टियां पूरे दमखम के साथ चुनाव प्रचार में जुट गई है. सोशल मीडिया के दौर में वोटरों तक पहुंच बनाने के लिए हर पार्टी ज्यादा से ज्यादा तरीके से सोशल मीडिया तक पहुंचने की कोशिश में जुटी हुई है. इसी कोशिश के तहत आज बीजेपी ने अपने मुख्य ट्विटर हैंडल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का करीब 27 साल पहले के एक भाषण का वीडियो डाला है और उसमें आतंकवाद पर उनके सख्त रवैये का जिक्र करते हुए कहा है कि शेरों के तेवर नहीं बदलते हैं. जो वीडियो बीजेपी की तरफ से सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है वो करीब 27 साल पुराना 24 जनवरी 1992 का है. उस वक्त पीएम मोदी बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी की टीम का हिस्सा हुआ करते थे. इस वीडियो में भाषण देते हुए नरेंद्र मोदी बेहद जोश में कश्मीर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने को लेकर आतंकवादियों को ललकारते हुए नजर आ रहे हैं.

यहां देखिए वीडियो

यह कार्यक्रम बीजेपी के उस ऐलान का हिस्सा था जिसमें कहा गया था कि 26 जनवरी 1992 को बीजेपी के लोग श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराएंगे. इस ऐलान के बाद आतंकियों ने ऐसे सभी नेताओं को मारने की धमकी दी थी.

जो वीडियो ट्विटर पर बीजेपी की तरफ से शेयर किया गया है उसमें पीएम मोदी भगवा पगड़ी पहने नजर आ रहे हैं और कह रहे हैं कि, 'हमारी यात्रा की सफलता ने आतंकियों को परेशान कर रखा है. लाल चौक पर पोस्टर्स लगाए गए हैं. दीवारों पर लिखा है जिन्होंने अपनी मां का दूध पीया है वो श्रीनगर के लाल चौक आएं और आकर भारत का तिरंगा झंडा फहराएं. अगर वो जिंदा वापस जाएगा तो आतंकवादी उसे इनाम देंगे..आतंकवादी कान खोलकर सुने, 26 जनवरी को परसों अब चंद घंटे बाकी हैं लाल चौक में फैसला हो जाएगा किसने अपनी मां का दूध पीया है.'

गौरतलब है कि 26 जनवरी 1992 को श्रीनगर के लाल चौक पर बेहद तनाव था और आतंकियों ने पुलिस मुख्यालय के पास धमाका किया था जिसमें राज्य के पुलिस महानिदेशक जख्मी हो गए थे. बीजेपी के कार्यक्रम को देखते हुए पूरे लाल चौक को सैन्य छावनी में बदल दिया गया था और बेहद तनाव और कड़ी सुरक्षा के बीच मुरली मनोहर जोशी और नरेंद्र मोदी ने वहां झंडा फहराया था.

वहीं वीडियो का दूसरा हिस्सा इस महीने का है जब पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले के बाद पीएम मोदी के बिहार की रैली में आतंकवाद को लेकर दिए गए कड़े बयान को दिखाया गया है. पीएम मोदी कह रहे हैं कि चुनचुन कर बदला लेना मेरी फितरत हैं और वो सातवें पाताल में भी छुपे हुए होंगे तो भी नहीं छोड़ेंगे.

First Published: Friday, March 15, 2019 07:33 PM

RELATED TAG: Bjp, Narendra Modi, Srinagar, Lal Chowk,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

News State ODI Contest
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो