BREAKING NEWS
  • IPL12, RCB vs CSK, Live: 161 रन पर आरसीबी ढेर, चेन्नई को जीत के लिए 162 रनों की दरकार- Read More »
  • कांग्रेस ने हरियाणा में उतारे 5 अपने उम्मीदवार, सोनीपत से भूपिंदर सिंह हुड्डा और कुरुक्षेत्र से निर्मल सिंह को मिला टिकट- Read More »
  • गाजियाबाद : इंदिरापुरम में पति ने पत्नी और 3 बच्चों को मौत के घाट उतारा, पढ़ें पूरी खबर- Read More »

राष्ट्रपति को दलित कहने पर मचा बवाल, बीजेपी ने कार्रवाई की मांग की

News State Bureau  |   Updated On : April 17, 2019 01:54 PM

नई दिल्ली:  

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पर विवादित बयान देने से कोई बाज नहीं आ रहा है. अपने सियासी फायदे के लिए कोई भी नेता किसी पद की गरिमा का ध्यान नहीं रख रहा है. अब तक पीएम मोदी पर ऐसी बयान बाजियां ही देखने को मिली थीं, लेकिन आज राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लेकर विवादित बयान दिया है. इस पर बीजेपी ने पलटवार किया.

यह भी पढ़ें ः लोकसभा चुनाव 2019 का दूसरा चरणः जानें सभी 97 सीटों का हाल, क्‍या हैं सियासी समीकरण

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, गहलोत ने राष्ट्रपति और दलितों को अपमान किया है. कांग्रेस दलित विरोधी पार्टी है. उन्होंने कहा, आज हम बहुत दुःख के साथ ये बात पूरे देश के सामने रखना चाहते हैं कि आज कांग्रेस पार्टी ने बहुत ही निचले स्तर पर जाकर चुनावी मर्यादा का उल्लंघन किया है. उन्होंने आगे कहा, हम चुनाव आयोग से अशोक गहलोत को नोटिस देने और यह निर्देश देने की अपील करते हैं कि कोई भी राजनीतिक दल भारत के राष्ट्रपति की टिप्पणी को महत्वपूर्ण न बनाएं. 

यह भी पढ़ें ः 'हिन्‍दू आतंकी' कहे जाने का इस तरह दिग्विजय सिंह से हिसाब चुकता करेंगी साध्वी प्रज्ञा

जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, भारत के राष्ट्रपति, जो देश में सर्वोच्च पद है, उन पर भी कांग्रेस ने राजनीति करने की कोशिश की है. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत देश के राष्ट्रपति जी को लेकर गलत बयानबाजी कर रहे हैं. बता दें कि अशोक गहलोत ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि 'दलित होने के चलते रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति के पद पर बैठाया गया है.'

यह भी पढ़ें ः जानें राहुल गांधी किससे रखना चाहते हैं जीवनभर का रिश्ता

बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, कांग्रेस क्या गरीब तबके, दलित समाज से आने वाले राष्ट्रपति जी के खिलाफ है. एक काबिल व्यक्ति और ज्ञानी व्यक्ति होने के बावजूद केवल समाज का नाम लेकर कांग्रेस राष्ट्रपति जी के साथ पूरे समाज और देश को बदनाम कर कर रही है. हम चुनाव आयोग से अपील करते हैं कि देश के राष्ट्रपति पर इस तरह का बयान देने के मामले पर वह संज्ञान ले और अशोक गहलोत को नोटिस दें और उन्हें माफी मांगने के लिए कहे.

यह भी पढ़ें ः अशोक गहलोत का विवादित बयान, राष्ट्रपति कोविंद के लिए कही ये बात

उन्होंने आगे कहा, महाराष्ट्र के नांदेड़ सभा में राहुल गांधी ने मोदी समुदाय के सभी लोगों को चोर कहा है. गरीब, पिछड़े तबके से आने वाले प्रधानमंत्री को लेकर कांग्रेस क्यों परेशानी होती है?. क्या कांग्रेस सभी दलित, पिछड़े, गरीब राजनेताओं को जलील करके केवल एक परिवार को ही राज करने लायक समझती है?. उन्होंने कहा,  

First Published: Wednesday, April 17, 2019 01:39 PM

RELATED TAG: Bjp Demands Action Against Ashok Gehlots On Dalit Remarks President Ramnath Kovind,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो