BREAKING NEWS
  • गुरुग्राम मॉब अटैक : पुलिस ने एक और युवक को किया गिरफ्तार, हत्या के प्रयास का मामला दर्ज- Read More »
  • मुंबई के खिलाफ मैच से पहले ऋषभ पंत ने जता दिए थे अपने इरादे, विराट कोहली के बारे में कही ये बात- Read More »
  • BIEAP Results 2019: आंध्र प्रदेश इंटरमीडिएट रिजल्ट पर नहीं होगा लोकसभा चुनावों का असर, तय समय पर आएंगे नतीजे- Read More »

आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच हो सकता है गठबंधन, पीसी चाको ने दिए संकेत

News State Bureau  |   Updated On : March 15, 2019 06:20 PM
पीसी चाको

पीसी चाको

नई दिल्ली:  

दिल्ली के 7 लाकसभा सीटों पर चुनाव के लिए आम आमदी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन हो सकता है. इस बात के संकेत कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीसी चाकों ने दिए हैं. इस तरह की अटकलें इसलिए भी लग रही हैं क्योंकि दिल्ली के प्रभारी चाकों का कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जारी किया एक ऑडियो संदेश इसी तरफ इशारा कर रहा हैं. हालांकि दिल्ली कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष शाली दीक्षित केजरीवाल की पार्टी से किसी भी तरह के गठबंधन के पक्ष में नहीं हैं और वो पहले भी इससे इनकार कर चुकी हैं. पीसी चाको के जारी ऑडियो संदेश को लेकर जब एक दिन पहले शीला दीक्षित से सवाल पूछा गया था तो उन्होंने कहा था कि इस बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है. दूसरी तरफ केजरीवाल बीजेपी को दिल्ली में हराने के लिए बार-बार कांग्रेस पर गठबंधन करने का दबाव बना रहे हैं.

गौरतलब है कि केजरीवाल के गठबंधन के ऑफर के बाद दिल्ली कांग्रेस की अहम बैठक हुई थी जिसके बाद राहुल गांधी और दिल्ली यूनिट की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने ऐलान किया था कि आम आदमी पार्टी से कांग्रेस का कोई गठबंधन नहीं होगा. दिल्ली में गठबंधन नहीं होने के बाद केजरीवाल हरियाणा में कांग्रेस गठबंधन करने की अपील कर रहे थे और इसके लिए बीजेपी को हराने का आधार बना रहे थे.

इससे पहले लोकसभा चुनाव के में दिल्ली के 7 सीटों के लिए कांग्रेस से गठबंधन की लाख कोशिशों के बाद भी आम आदमी पार्टी को निराशा हाथ लगने पर अब केजरीवाल ने बीजेपी और कांग्रेस पर निशाना साधा है. केजरीवाल ने कांग्रेस से गठबंधन की कोशिश असफल होने के बाद भड़ास निकालते हुए कहा, ऐसे समय में जब पूरा देश अमित शाह और मोदी की जोड़ी को हराना चाहता है तो कांग्रेस उन्हें एंटी बीजेपी वोटों को बांटने में मदद कर रही है. ऐसी अफवाह है कि बीजेपी और कांग्रेस की बीच इसके लिए कोई गुप्त समझौता हुआ है. दिल्ली के लोग इस गठबंधन के खिलाफ लड़ेंगे और इस अपवित्र गठबंधन को हराएंगे.

गौरतलब है पांच मार्च को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के नेताओं को बैठक के लिए बुलाया था और ऐसी संभावना जताई जा रही थी कि इस बैठक के बाद आम आदमी पार्टी से गठबंधन का ऐलान किया जा सकता है. लेकिन मीटिंग का बाद ठीक इसका उल्टा हुआ और दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष और पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने साफ कर दिया कि कांग्रेस केजरीवाल की पार्टी से कोई गठबंधन नहीं करेगी.

इससे पहले केजरीवाल कई बार सार्वजनिक मौकों पर कांग्रेस से गठबंधन की इच्छा जता चुके थे और रैली में कह चुके थे कि मैं कांग्रेस से गठबंधन के लिए कहते-कहते थक गए लेकिन वो इसके लिए राजी नहीं हुए.

बता दें कि आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आवास पर दोपहर में हुई. राहुल ने दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित के साथ-साथ तीनों कार्यकारी अध्यक्षों- पूर्व विधायक हारुन यूसुफ, राजेश लिलोठिया और देवेंद्र यादव को बुलाया था. इसके अलावा पार्टी के पूर्व अध्यक्षों को भी उक्त बैठक में बुलाया गया.

दरअसल, दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की 6 लोकसभा सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर चुके हैं. आम आदमी पार्टी ने नई दिल्ली संसदीय सीट से बृजेश गोयल, पूर्वी दिल्ली से आतिशी, उत्तर पूर्वी दिल्ली से दिलीप पांडेय, साउथ दिल्ली से राघव चड्ढा, चांदनी चौक से पंकज गुप्ता और उत्तर पश्चिम दिल्ली से गुगन सिंह को उम्मीदवार बनाया गया है.

First Published: Friday, March 15, 2019 05:53 PM

RELATED TAG: Sheila Dixit, Ajay Maken, Pc Chako, Aap,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

News State ODI Contest
Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो