8 घंटे से कम सोते हैं? हो जाएं सावधान, डिप्रेशन का हो सकते हैं शिकार

शोधकर्ताओं ने कहा कि अपर्याप्त नींद लेने से व्यक्ति के आसपास के नकारात्मक विचार उसके जीवन में दखल देते रहते हैं।

  |   Updated On : January 06, 2018 11:53 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

न्यूयॉर्क:  

अगर आप आठ घंटे से कम नींद ले रहे हैं तो सावधान हो जाइए। एक शोध के मुताबिक, आठ घंटे से कम सोने से अवसाद का खतरा बढ़ सकता है। नियमित तौर पर नींद में बाधा पड़ने से नकारात्मक विचारों से ध्यान हटाने में मुश्किल हो सकती है।

शोधकर्ताओं ने कहा कि अपर्याप्त नींद लेने से व्यक्ति के आसपास के नकारात्मक विचार उसके जीवन में दखल देते रहते हैं।

बिंघाम्टन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर मेरेडिथ कोल्स ने कहा, 'हमने पाया है कि लोगों के दिमाग में कुछ विचार अटक जाते हैं। उनके बढ़े हुए नकारात्मक विचार उनके लिए नकारात्मक उत्प्रेरकों से अलग होने को मुश्किल बना देते हैं।'

ये भी पढ़ें: सर्दियों में भी लग सकते हैं फैशनेबल, स्मार्ट लुक के साथ देंगे गर्माहट

कोल्स ने कहा, 'ऐसा माना जाता है ये नकारात्मक विचार लोगों में कई तरह के मनोवैज्ञानिक विकार, जैसे अवसाद और व्यग्रता (डिप्रेशन एवं एंग्जाइटी) पैदा करते हैं।'

इस शोध का प्रकाशन जर्नल साइंसडायरेक्ट में किया गया है। इसमें लोगों की नींद लेने की अवधि के साथ नकारात्मक विचारों का मूल्यांकन किया गया।

ये भी पढ़ें: नाम बदलने के बाद भी 'पद्मावत' पर पूरी तरह से बैन चाहती है करणी सेना

First Published: Saturday, January 06, 2018 11:48 AM

RELATED TAG: Depression,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो