सिर्फ 342 सैनिकों के साथ तानाजी मालुसरे ने जीता था दुर्गम कोढ़ाणा दुर्ग

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : November 20, 2019 05:02:49 PM
Tanaji The Unsung Warrior

Tanaji The Unsung Warrior (Photo Credit : Twitter )

नई दिल्ली:  

अजय देवगन, काजोल और सैफ अली खान जैसे स्टार्स से सजी फिल्म तानाजी द अनसंग वॉरियर का दमदार ट्रेलर रिलीज हो चुका है. ओम राउत के डायरेक्शन में बनी फिल्म तानाजी अगले साल 10 जनवरी को रिलीज हो रही है. फिल्म में अजय देवगन तानाजी मालुसरे की भूमिका निभा रहे हैं. ये अजय की 100वीं फिल्म है. लेकिन क्या आपको मालूम है कि कौन थे तानाजी मालुसरे. आइए जानते हैं उस वीर मराठा योद्धा के बारे में....

मराठा सामाज्य के संस्थापक छत्रपति शिवाजी महाराज की सेना में तानाजी मालुसरे एक सैन्य नेता थे. माराठा योद्धा तानाजी ने शिवाजी के लिए कई युद्ध लड़े थे. 1670 ई. में कोढ़ाणा किले (सिंहगढ़) को तानाजी ने जीता था. जब शिवाजी सिंहगढ़ को जीतने निकले थे तब तानाजी अपने पुत्र के विवाह में व्यस्त थे लेकिन जैसे ही उन्होंने शिवाजी का समाचार मिला उन्होंने वह विवाह छोड़कर युद्ध में चले गए.

दुर्गम कोढ़ाणा दुर्ग पर तानाजी के नेतृत्व में हिन्दू वीरों ने रात में आक्रमण किया. कोढ़ाणा के दुर्ग पर उदयभान राठौड का कब्जा था. जानकर आश्चर्य होगा कि तानाजी ने सिर्फ 342 सैनिकों के साथ दुर्गम कोढ़ाणा दुर्ग पर हमला किया था. उनका मुकाबला 5000 हजार मुगल सैनिकों के साथ था.  इस भीषण युद्ध को जीतने में तानाजी शहीद हो गए थे. इस खबर का पता जब शिवाजी को चला तब उन्होंने कहा- ‘गढ़ आला पण सिंह गेला’ इसका मतलब की गढ़ तो जीत गए लेकिन मेरा सिंह (तानाजी) चला गया. बाद में शिवाजी ने इस किले का नाम सिंहगढ़ रख दिया.

First Published: Nov 20, 2019 05:00:57 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो