सनी देओल ने गुरदासपुर में किया रोड शो, सेल्फी लेने के लिए लोगों का उमड़ा सैलाब

IANS  |   Updated On : May 07, 2019 11:16:21 PM
सन्नी देओल (फाइल फोटो)

सन्नी देओल (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

गुरदासपुर (पंजाब) :  

अभिनेता से नेता बने और पंजाब की गुरदासपुर लोकसभा सीट से भाजपा के उम्मीदवार सनी देओल ने मंगलवार को वादा किया कि वह चुनाव जीतने के बाद निर्वाचन क्षेत्र की सभी समस्याओं का हल प्रभावी ढंग से करेंगे. चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि गुरदासपुर के लोगों ने जिस तरह से उन पर भरोसा जताया है और उन्हें प्यार दिया है, वह जीत के लिए आश्वस्त है. जब पूर्व सुपरस्टार देव आनंद के गांव गरोता में सनी देओल ने कदम रखा, तो ग्रामीणों ने उनका स्वागत किया. गांव के वरिष्ठ व्यक्ति किशन चंद ने कहा कि गांव का बॉलीवुड से बहुत पुराना नाता है और सनी देओल के आने से यह बंधन और मजबूत हुआ है. अभिनेता ने कहा कि वह युवाओं, बुजुर्गों और महिलाओं के लिए बनाई गई योजनाओं को प्रभावी ढंग से लागू करेंगे.

अपने फिल्मी डायलॉग वाले अंदाज में देओल ने कहा कि 'ढाई किलो का हाथ' देशभर के लोगों से स्नेह के कारण ही संभव हो पाया. भीषण गर्मी के बीच, अभिनेता और नेता देओल के रोड शो में अपने पसंदीदा उम्मीदवार के साथ सेल्फी लेने के लिए लोगों का सैलाब उमड़ पड़ा. अपनी दिनभर की यात्रा के दौरान देओल ने धार्मिक स्थानों का दौरा किया. भाजपा-अकाली दल ने 62 वर्षीय अभिनेता को गुरदासपुर से मैदान में उतारा है, दिवंगत अभिनेता विनोद खन्ना ने इस सीट का प्रतिनिधित्व चार बार किया है. अप्रैल, 2017 में उनका कैंसर के कारण निधन हो गया था. विनोद खन्ना की पत्नी कविता खन्ना यहां से टिकट चाहती थीं, लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी. उन्होंने मीडिया के सामने अपनी नाराजगी प्रकट कर चुकी हैं.

धर्मेंद्र के बेटे अनुभवी अभिनेता देओल का गुरदासपुर शहर के साथ कोई सीधा संबंध नहीं है, हालांकि उनके पिता पंजाब के औद्योगिक शहर लुधियाना के पास साहनेवाल शहर से हैं, उनकी पंजाबी अपील मजबूत है. वह जाट सिख हैं. गुरदासपुर पंजाब के उत्तर में स्थित है, जो पाकिस्तान और जम्मू-कश्मीर के अशांत राज्य के साथ एक अंतर्राष्ट्रीय सीमा साझा करता है. यह क्षेत्र पंजाब के अन्य क्षेत्रों की तरह विकसित नहीं है.

देओल को कांग्रेस राज्य इकाई के अध्यक्ष सुनील जाखड़ के खिलाफ खड़ा किया गया है, जिन्होंने अक्टूबर 2017 के उपचुनाव में 1.92 लाख वोटों के अंतर से जीत हासिल की थी. राज्य में भाजपा का शिरोमणि अकाली दल के साथ गठबंधन है. यह तीन लोकसभा सीटों (अमृतसर, गुरदासपुर और होशियारपुर) में चुनाव लड़ रही है, जबकि अकाली दल बाकी 10 सीटों पर चुनाव लड़ रहा है. पंजाब में मतदान 19 मई को होगा.

First Published: May 07, 2019 11:09:57 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो