'हिन्‍दू आतंकी' कहे जाने का इस तरह दिग्विजय सिंह से हिसाब चुकता करेंगी साध्वी प्रज्ञा

News State Bureau  |   Updated On : April 17, 2019 01:58:24 PM
साध्वी प्रज्ञा और दिग्विजय सिंह

साध्वी प्रज्ञा और दिग्विजय सिंह (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

मध्य प्रदेश के भोपाल में मीटिंग के बाद साध्वी प्रज्ञा ने बीजेपी का दामन थाम लिया हैं. वह भोपाल से चुनाव से लड़ सकती हैं. पहले से ही कयास लगाया जा रहा था कि इस बार साध्वी प्रज्ञा चुनाव लड़ सकती है, लेकिन आज बीजेपी में शामिल होने के बाद यह करीब-करीब साफ हो गया है कि भोपाल से चुनाव लड़ेंगी. हालांकि, अभी तक बीजेपी की ओर से इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है.

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) में भोपाल लोकसभा सीट कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के कारण बेहद हाई प्रोफाइल मानी जाती रही है, लेकिन इस बार सीट पर चर्चा की वजह कुछ और है. माना जा रहा है कि मालेगांव बम ब्लास्ट के कारण चर्चा में आईं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भाजपा टिकट दे सकती है. बुधवार को भोपाल में बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के साथ हुई बैठक के बाद इसकी चर्चा तेज हो गई है.

यह भी पढ़ें ः जानें राहुल गांधी किससे रखना चाहते हैं जीवनभर का रिश्ता

भोपाल में बीजेपी ज्वाइन करने के बाद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने मीडिया से कहा, मैं औपचारिक रूप से बीजेपी में शामिल हो गई हूं, मैं चुनाव लड़ूंगी और जीत भी हासिल करूंगी. बता दें कि साध्वी प्रज्ञा सुबह भोपाल के बीजेपी दफ्तर पहुंची थीं. यहां उनकी बीजेपी के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान, रामलाल और प्रभात झा के साथ बैठक हुई थी. इसके बाद वह बीजेपी में शामिल हो गईं.

यह भी पढ़ें ः अशोक गहलोत का विवादित बयान, राष्ट्रपति कोविंद के लिए कही ये बात

पिछले दिनों साध्वी ने कहा था कि अगर पार्टी उन्हें चुनाव लड़ने के लिए कहती है तो वह पीछे नहीं हटेंगी. साध्वी ने कहा था, जिस दिग्विजय सिंह ने हिंदू धर्म को पूरे संसार में बदनाम किया. भगवा ध्वज को आतंकवाद के रूप में प्रचारित किया. आध्यात्म और त्यागमय जीवन पर आक्षेप किया और राष्ट्रधर्म को कलंकित किया. उनके खिलाफ यदि मुझे चुनाव लड़ना पड़े तो भी मैं पीछे नहीं हटूंगी.

First Published: Apr 17, 2019 12:41:37 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो