पूर्वांचल में प्रियंका गांधी के सहारे मोदी के साथ-साथ SP-BSP-RLD गठबंधन को चुनौती देगी कांग्रेस

News State Bureau  | Reported By : DRIGRAJ MADHESHIA |   Updated On : January 24, 2019 08:51:47 AM
प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी (Photo Credit : )

नई दिल्‍ली:  

उत्‍तर प्रदेश में कांग्रेस (Congress) को जिस तरह सपा (Samajwadi Party) और बसपा (BSP) ने गठबंधन से बाहर कर दिया था राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अपनी बहन प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को फ्रंट पर लाकर पूरी यूपी की राजनीति में हलचल मचा दी है. कभी राजनीति में नहीं आने की बात कहने वाली प्रियंका गांधी ( Priyanka Gandhi) को कांग्रेस (Congress) ने महासचिव तो बनाया ही, साथ ही पूर्वी यूपी की जिम्‍मेदारी भी दे दी है. माना जा रहा है कांग्रेस प्रियंका के जरिए न केवल पीएम मोदी (Narendra Modi) और उनके पूर्वांचल में किए गए विकास को टक्‍कर देगी बल्‍कि SP-BSP-RLD गठबंधन के लिए भी परेशानी का सबब बनेगी. 

यह भी पढ़ेंः राहुल गांधी का बड़ा दांव, प्रियंका गांधी को दी पूर्वी उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस की जिम्‍मेदारी

यूपी में 1989 से एक के बाद गि‍रते प्रदर्शन से यूपी कांग्रेस हाशि‍ए पर चलती चली गई. केंद्र में बदलती सरकारों के समीकरण का सबसे ज्‍यादा असर यूपी कांग्रेस पर पड़ा. जब-जब केन्‍द्र की राजनीति से करवट ली, प्रदेश की राजनीति भी वि‍कास के वादे से दूर कास्‍ट पॉलि‍टि‍क्‍स पर आकर टि‍क गई.

इस बार सपा-बसपा के गठजोड़ और बीजेपी के आगे कांग्रेस की बुरी गत तय है. फिर भी कांग्रेस अकेले दम पर चुनाव लड़ने को तैयार है. यूपी में इससे पूर्व दो बार प्रभारी की जि‍म्‍मेदारी संभाल चुके गुलाम नबी आजाद पार्टी के खोये हुए जनाधार को वापस पाने के लि‍ए एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः मां सोनिया गांधी और भाई राहुल का चुनाव प्रबंधन देख चुकीं प्रियंका ने 16 साल की उम्र में दिया था सार्वजनिक भाषण

2012 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 403 में से 355 सीटों पर पार्टी ने चुनाव लड़ा और 28 सीटें जीतीं. इस चुनाव में 31 सीटों पर दूसरे स्‍थान पर रही और कुल पड़े वोट का 11.6% मत ही उसे मिले. इसके दो ही साल बाद हुए लोकसभा चुनाव में मोदी की सुनामी में कांग्रेस का वोट शेयर 11.6 से घटकर 7.5% रह गया. पार्टी राज्‍य की 80 लोकसभा सीटों में से 67 पर चुनाव लड़ी और सिर्फ रायबरेली और अमेठी की जीत सकी. दूसरे नंबर पर भी पार्टी केवल दो ही सीटों पर रही उसमें से भी एक सीट कुशीनगर की थी.

यह भी पढ़ेंः रोचक तथ्‍य : करीब 65 साल में आधी सीटों पर आज तक नहीं चुनी गई एक भी महिला सांसद

इसके बाद भी कांग्रेस का पतन जारी रहा. 2017 के विधानसभा चुनाव में पार्टी 403 सीटों में 114 पर चुनाव लड़ी. राहुल गांधी को अखिलेश का साथ भी रास नहीं आया और केवल 7 सीटें ही कांग्रेस जीत पाई. 33 सीटों पर दूसरे स्‍थान पर रही लेकिन वोट रह गए 6.25%.

यह भी पढ़ेंः अभी तक पर्दे के पीछे से राजनीति करती थीं, अब मुख्‍य किरदार निभाएंगी प्रियंका गांधी

2012 के चुनावों की बात करें तो समाजवादी पार्टी ने सबको चौंकाते हुए 403 विधानसभा सीटों वाले इस राज्य में अकेले ही 224 सीटें झटक ली थीं. BSP महज 80 सीटों पर सिमट गई थी. BJP को सिर्फ 47 सीटों से संतोष करना पड़ा था. कांग्रेस यहां कोई चमत्कार नहीं कर सकी और 28 सीटें जीतकर चौथे नंबर पर रही.

यह भी पढ़ेंः Mission 2019: अगर मान गई कांग्रेस तो उत्‍तर प्रदेश में बनेगा एक और गठबंधन

इससे पहले 2007 के विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी 206 सीटें जीतकर अकेले अपने दम पर सरकार बनाने में सफल रही. मुलायम सिंह के नेतृत्व वाली SP को सिर्फ 97 सीटें मिलीं. कांग्रेस को 22 तो BJP को 51 सीटों से ही संतोष करना पड़ा.

जहां तक यूपी की बात करें तो समाजवादी पार्टी पिछले लोकसभा चुनाव में 31 सीटों पर नंबर 2 पर रही थी. सपा ने 5 सीटें जीती भी थीं. दूसरी ओर, बहुजन समाज पार्टी को पिछले चुनाव में एक भी सीट हासिल नहीं हुई थी, लेकिन 33 सीटों पर वह नंबर 2 पर रही थी. कांग्रेस दो सीटें जीतीं और दो पर दूसरे स्‍थन पर रही.

2014 के लोकसभा में पूर्वांचल की वह सीटें जिन पर सपा और बसपा के उम्‍मीदवार दूसरे स्‍थान पर रहे

लोकसभा सीट                                       विजेता                                       पार्टी                      दूसरे स्‍थान पर        पार्टी                  मतों का अंतर

सुल्‍तानपुर

वरूण गांधी

BJP

पवन पांडेय

BSP

178902

प्रतापगढ़

कुंवर हरिवंश सिंह

AD

आसिफ निजामुद्दीन

BSP

168222

हमीरपुर

कुंवर पुष्‍पेंद्र

BJP

बिसंभर प्रसाद

SP

266788

बांदा

भैरो प्रसाद मिश्रा

BJP

आके सिंह पटेल

BSP

115788

फतेहपुर

निरंजन ज्‍योति

BJP

अफजल सिद्दकी

BSP

187206

कौशांबी

विनोद कुमार

BJP

शैलेंद्र कुमार

SP

42847

फूलपुर

केशव प्रसाद मौर्य

BJP

धर्मराज

SP

308308

इलाहाबाद

श्‍यामचरन गुप्‍ता

BJP

रेवती रमन सिंह

SP

62009

फैजाबाद

लल्‍लू सिंह

BJP

मित्रसेन यादव

SP

282775

अंबेडकर नगर

हरीओम पांडेय

BJP

राकेश पांडेय

BSP

139429

बहराइच

साध्‍वी साबित्री बाई

BJP

शब्‍बीर अहमद

SP

95645

कैशरगंज

ब्रजभूषण शरण

BJP

पंडित सिंह

SP

78218

श्रावस्‍ती

दद्न मिश्रा

BJP

अतीक अहमद

SP

85913

गोंडा

किर्तीवर्धन सिंह

BJP

नंदिता शुक्‍ला

SP

160416

डुमरियागंज

जगदंबिका पाल

BJP

मोमुकीम

BSP

103588

बस्‍ती

हरीश द्विवेदी

BJP

ब्रिज किशोर सिंह

SP

33562

संतकबीर नगर

शरद त्रिपाठी

BJP

कुशल तिवारी

BSP

97978

महराजगज

पंकज

BJP

काशीनाथ

BSP

240458

गोरखपुर

आदित्‍यनाथ

BJP

राजमति

SP

312783

देवरिया

कलराज मिश्रा

BJP

नियाज अहमद

BSP

265386

बांसगांव

कमलेश पासवान

BJP

सदल प्रसाद

BSP

189516

लालगंज

नीलम सोनकर

BJP

बेचई सरोज

SP

63086

घोसी

हरिनारायन राजभर

BJP

दारा सिंह चौहान

BSP

146015

सलेमपुर

रविंद्र कुशवाहा

BJP

रविशंकर सिंह

BSP

232342

बलिया

भरतसिंह

BJP

नीरज शेखर

SP

139434

जौनपुर

कृष्‍ण प्रताप

BJP

सुभाष पांडेय

BSP

146310

मछली शहर

राम चरित्र

BJP

भोलानाथ

BSP

172155

गाजीपुर

मनोज सिन्‍हा

BJP

शिवकन्‍या

SP

32452

चंदौली

डॉ महेंद्र नाथ पांडेय

BJP

अनिल कुमार

BSP

156756

भदोही

विरेंद्र

BJP

राकेशधर

BSP

158039

मिर्जापुर

अनुप्रिया पटेल

AD

समुद्र विंद

BSP

219079

राबर्ट्सगंज

छोटेलाल

BJP

शरद प्रसाद

BSP

190486

First Published: Jan 23, 2019 02:18:40 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो