BREAKING NEWS
  • कमलेश तिवारी हत्याकांड: गुजरात ATS को मिली बड़ी कामयाबी, मुख्य आरोपी अशफाक और मुईनुद्दीन गिरफ्तार- Read More »

Lok Sabha Election 2019 : अमित शाह ने कहा, 'नेहरू की गलती भारत के लिए कैंसर बन गई'

IANS  |   Updated On : March 16, 2019 09:40:44 AM
अमित शाह (फाइल फोटो)

अमित शाह (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

एक तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) जैश-ए-मोम्महद के संस्थापक अजहर मसूद को पिछली राजग सरकार के दौरान छोड़े जाने की याद दिला रहे हैं. वहीं बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को जवाबी हमले में कहा कि इस तरह की संवेदनहीन टिप्पणी से पहले कांग्रेस अध्यक्ष को उनकी पार्टी और उनके पिता के नाना जवाहरलाल नेहरू द्वारा चीन और कश्मीर पर की गई गलतियों के बारे में सोचना चाहिए, जो देश के लिए कैंसर बन गई हैं. शाह की टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब इसके पहले राहुल गांधी ने गांधीनगर में एक रैली में पूछा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) देश को यह बात क्यों नहीं बता रहे हैं कि अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली पूर्व राजग (NDA) सरकार ने पुलवामा हमले के लिए जिम्मेदार अजहर को रिहा किया था.

यह भी पढ़ें- राहुल गांधी आज देहरादून जाएंगे, क्‍या इस बीजेपी नेता के बेटे कांग्रेस में शामिल होंगे

शाह ने कहा कि इस तरह के सवाल खड़े कर कांग्रेस अध्यक्ष न केवल संवेदनहीनता का परिचय दे रहे हैं, बल्कि अपनी खुद की पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की समझ पर भी सवाल खड़े कर रहे हैं. शाह ने शुक्रवार को एक ब्लॉग में लिखा, 'यह बहस न तो मसूद अजहर की रिहाई से शुरू होती है और न समाप्त होती है. यह सूची लंबी है, और यदि इस पर चर्चा की गई तो कांग्रेस दोषी पार्टी के रूप में दिखेगी.'

यह भी पढ़ें- Lok sabha Election 2019: बिहार में कांग्रेस 11 सीटों पर उतारेगी उम्मीदवार

शाह ने कहा, 'कंधार विमान अपहरण मामले -जिसके कारण सरकार को 170 यात्रियों के बदले अजहर को रिहा करना पड़ा था- से10 साल पहले कांग्रेस सरकार ने तत्कालीन गृहमंत्री मुफ्ती मुहम्मद सईद की बेटी रुबिया सईद की रिहाई के लिए 10 आतंकवादियों को रिहा किया था.'

यह भी पढ़ें- कांग्रेस में आने के बाद प्रियंका गांधी ने पहली बार रैली को किया संबोधित, कहा- जागरूकता से बड़ी कोई देशभक्ति नहीं

उन्होंने कहा कि अजहर की रिहाई का निर्णय वाजपेयी ने सर्वदलीय बैठक बुलाकर सर्वसम्मति से लिया था, लेकिन संप्रग सरकार ने 2010 में पाकिस्तान के साथ संबंध सुधारने के लिए एक सद्भावना के तौर पर 25 आतंकियों को एकतरफा रिहा कर दिया था.

अबकी बार किसकी सरकार : देखिए क्या है मतदाता का मूड, देखें VIDEO

First Published: Mar 16, 2019 09:38:17 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो