Bihar Board Matric Exam: शिक्षकों के हड़ताल के बीच बिहार बोर्ड मैट्रिक की परीक्षा आज से शुरू

News State Bureau  |   Updated On : February 17, 2020 11:20:37 AM
Bihar Board Matric Exam: शिक्षकों के हड़ताल के बीच बिहार बोर्ड मैट्रिक की परीक्षा आज से शुरू

बिहार बोर्ड मैट्रिक की परीक्षा आज से शुरू (Photo Credit : फाइल फोटो )

ख़ास बातें

  •  बिहार बोर्ड 10वीं की परीक्षाएं हुईं शुरू. 
  •  परीक्षाएं शुरू होने से पहले ही अध्यापक हड़ताल पर. 
  •  बिहार बोर्ड ने पहले से ही अलग तैयारी कर रखी है. 

नई दिल्ली :  

Bihar Board Matric Exam Starts today: बिहार बोर्ड (Bihar Board) 10वीं मैट्रिक परीक्षा (10th Matric Exam) की शुरूआत आज से शुरू हो गई है. सबसे बड़ी बात ये है कि ये परीक्षा शिक्षकों के हड़ताल के बीच शुरू हो रही है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रदेशभर के नियोजित शिक्षकों ने 17 फरवरी से हड़ताल पर जाने की घोषणा कर रखी है. ऐसे में बिहार के परीक्षार्थियों को थोड़ी परेशानी का सामना जरूर करना पड़ सकता है. नियोजित शिक्षकों की हड़ताल के कारण बिहार बोर्ड ने अलग से तैयारी कर रखी है. प्रदेश भर के नियमित शिक्षकों और अनुदानित कॉलेजों और स्कूल के शिक्षकों को लगाया जाएगा. परीक्षा केंद्रों पर,मैट्रिक की परीक्षा में इस बार कुल 15 लाख 29 हजार 393 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं. 

यह भी पढ़ें: UP Board: 10वीं हाईस्कूल, 12वीं इंटरमीडिएट की परीक्षाएं कल से, तैयारी के खास Tips

बिहार बोर्ड मैट्रिक की परीक्षा 17 से 24 फरवरी तक आयोजित की जा रही है. पहले दिन  Science Subject की परीक्षा ली जाएगी. कुल 15 लाख 29 हजार 393 परीक्षार्थी शामिल होंगे. इसके लिए 1368 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. बिहार बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि परीक्षार्थियों की संख्या अधिक होने के कारण दो पालियों में परीक्षा ली जाएगी. प्रथम पाली में सात लाख 74 लाख 415 और द्वितीय पाली में सात लाख 54 हजार 978 परीक्षार्थी शामिल होंगे. प्रथम पाली 9.30 से 12.15 और दूसरी पाली दोपहर 1.45 से 4.30 बजे तक ली जाएगी. परीक्षार्थियों को प्रथम पाली में 9.20 और दूसरी पाली में 1.35 तक अंतिम प्रवेश मिलेगा. इसके बाद किसी भी परीक्षार्थी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा.

बिहार बोर्ड इस बार परीक्षा में नकल को लेकर काफी सख्त है. बिहार बोर्ड की तरफ से छात्रों को जूते मोजे पहनकर आने को मना किया गया है. अगर फिर भी स्टूडेंट जूते मौजे पहन कर परीक्षा में आते हैं तो उन्हें जूते मोजे उतार कर ही प्रवेश दिया जाएगा.
अधिक जानकारी के लिए बता दें कि परीक्षा केंद्र में एडमिट कार्ड और पेन के अलावा कुछ भी नहीं ले जाने दिया जाएगा। परीक्षा के दौरान सभी केंद्रों के बाहर दो सौ मीटर की दूरी तक धारा 144 लागू रहेगी.

यह भी पढ़ें: ISRO Recruitment 2020: इसरो में नौकरी पाने का सुनहरा अवसर, यहां से करें आवेदन

पिछले साल (2019) बिहार बोर्ड (Bihar Board class 12th exams) में 10वीं की परीक्षाएं 21 फरवरी से 28 फरवरी तक आयोजित की गई थी. जबकि बिहार बोर्ड 12वीं का की परीक्षाएं 6 फरवरी से 16 फरवरी तक आयोजित की गई थीं. बिहार बोर्ड 10वीं की परीक्षा का रिजल्ट 6 अप्रैल जबकि 12वीं का रिजल्ट 30 मार्च 2019 को जारी किया गया था.
Bihar Board Class 10th 2019 Analysis

  • बिहार बोर्ड 10वीं या हाईस्कूल में13 लाख 20 हजार 36 छात्र पास हुए.
  • बिहार बोर्ड 10वीं में 80.70 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए. इस परीक्षा में करीब 16 लाख बच्चे परीक्षा में शामिल हुए थे.
  • बिहार बोर्ड का रिजल्ट रिकोर्ड 29 दिन में जारी हुआ है. इस बार के रिजल्ट में कुछ बदलाव भी किया गया था.
  • इस साल 10वीं बोर्ड की परीक्षा कुल 16 लाख, 60 हजार, 609 परीक्षार्थियों ने दी थी.
  • बिहार बोर्ड की परीक्षा 21 फरवरी से 28 फरवरी 2019 तक हुई थी. इसके लिए पूरे राज्यभर में कुल 1418 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे.
  • पूरी परीक्षा के दौरान 162 परीक्षार्थियों को निष्कासित कर दिया गया. इसके अलावा 55 लोगों को पकड़ गया, जो दूसरों के नाम पर परीक्षा दे रहे थे.
  • बिहार बोर्ड 10वीं की परीक्षा में प्रथम स्थान सावन राज भारती ने हासिल किया. सावन राज भारती, सिमुलतला के छात्र हैं. सावन ने 97.2 प्रतिशत नंबर स्कोर किए.
  • 483 अंक लेकर दूसरे नंबर पर इसी स्कूल के रॉबिन राज रहे. रॉबिन ने 96.6 % नंबर्स स्कोर किए.
  • सिमुलतला स्कूल के ही प्रियांशु राज तीसरे स्थान पर रहे. उन्हें 96.2 प्रतिशत अंक मिला.
  • चौथे स्थान पर संयुक्त तीन टॉपर भी सिमुलतला के छात्र हैं. उन्हें 96 प्रतिशत अंक मिले.
  • पांचवां स्थान भी 2 छात्र हर्ष कुमार, रोशन कुमार भी इसी स्कूल के स्टूडेंट्स थे.
First Published: Feb 17, 2020 08:20:49 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो