BREAKING NEWS
  • हैरान करने वाली खबर, पड़ोस के कुत्ते से 'अवैध संबंध' पर कुतिया को किया बेघर- Read More »
  • Samsung Galaxy A 80 की Pre-Booking हुई शुरू, फोन में हैं ये खास फीचर- Read More »
  • 52 हफ्ते के उच्चतम स्तर पर पहुंचा HDFC Life का शेयर, 5 फीसदी की तेजी- Read More »

अरविंद केजरीवाल बोले- सुप्रीम कोर्ट का फैसला संविधान और दिल्ली की जनता के खिलाफ

News State Bureau  |   Updated On : February 14, 2019 01:53 PM

नई दिल्ली:  

अधिकारों की जंग में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी आपत्‍ति जताई. उन्‍होंने सवाल उठाया, ट्रांसफर-पोस्‍टिंग नहीं करेंगे तो सरकार कैसे चलेगी. उन्‍होंने फैसले को संविधान के खिलाफ बताया. यह कैसे हो सकता है कि चुनी हुई सरकार को ट्रांसफर का अधिकार नहीं होगा. दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री ने कहा, अगर एक सरकार को ट्रांसफर-पोस्‍टिंग करने का भी पावर नहीं होगा तो सरकार कैसे काम करेगी. एक पार्टी की सरकार, जिसके पास 67 सीटें हैं लेकिन पावर उनके पास है, जिनके पास केवल 3 विधायक हैं. अरविंद केजरीवाल ने कहा- हम इस मामले में कानूनी लड़ाई जारी रखेंगे. 

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा- यह कैसा फैसला है. आखिर किस राज्‍य का मुख्‍यमंत्री ट्रांसफर-पोस्‍टिंग नहीं करता. आखिर सरकार कैसे चलेगी. सबसे बड़ा जनतंत्र है, दिल्‍ली की जनता का फैसला हमारे साथ है. 

यह भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट से अरविंद केजरीवाल सरकार को बड़ा झटका, LG के अधीन रहेगी दिल्‍ली ACB, केंद्र के अफसरों पर नहीं कर सकती कार्रवाई

अरविंद केजरीवाल ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा, अगर दिल्ली में कोई भ्रष्टाचार करता है तो उन्हें उसपर कार्रवाई करने के लिए बीजेपी के पास जाना पड़ेगा. सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला संविधान के खिलाफ है. अरविंद केजरीवाल बोले- हमें अनशन करके दिल्ली के अधिकारों की लड़ाई लड़नी पड़ रही है. हमारी कैबिनेट ने उपराज्यपाल के घर में बैठकर 10 दिन तक अनशन किया, फिर भी कोई फैसला नहीं हुआ.

मुख्यमंत्री ने दिल्ली की जनता से अपील की कि लोकसभा चुनाव 2019 में राज्य की सभी 7 सीटें आम आदमी पार्टी को सौंप दे, जिससे हम संसद में दबाव बना सकें और दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने को बड़ी लड़ाई लड़ेंगे. अरविंद केजरीवाल ने कहा, यह फैसला दिल्ली वालों के साथ अन्याय है. 

यह भी पढ़े : अरविंद केजरीवाल ने लड़ी लड़ाई फिर भी मन मुताबिक नहीं आया फैसला

अरविंद केजरीवाल ने 2019 में नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी को हराने की अपील की. उन्होंने कहा कि बीजेपी के खिलाफ पार्टियों का वोट ना बंटे और इसका फायदा बीजेपी को ना मिले, इसके लिए विपक्षी पार्टियों को सोचना होगा. दिल्ली में कांग्रेस से गठबंधन को लेकर अरविंद केजरीवाल ने कहा, उन्होंने कहा कि अभी कांग्रेस ने गठबंधन को लेकर मना कर दिया है.

First Published: Thursday, February 14, 2019 01:09 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Arvind Kejriwal Oppose Supreme Court Decision On The Issue Of Who Is The Boss Of Delhi,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

अन्य ख़बरें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो