भोपाल हॉस्टेल रेप केस: एक और लड़की ने लगाया रेप का आरोप, कहा- 'जबरदस्ती दिखाया जाता था पॉर्न, मना करने पर करता था मारपीट'

इंदौर पुलिस के पास पहुंची पीड़ित लड़की ने आरोप लगाया है कि अश्विनी शर्मा ने उसे बंधक बनाकर रखा था और जबरदस्ती पॅार्न दिखाकर अप्राकृतिक यौन संबंध भी बनाता था।

  |   Updated On : August 12, 2018 08:34 PM
भोपाल हॉस्टेल रेप केस (सांकेतिक चित्र)

भोपाल हॉस्टेल रेप केस (सांकेतिक चित्र)

नई दिल्ली:  

बिहार के मुजफ्फरपुर, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के देवरिया के बाद मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के हॅास्टल रेप केस सामने आने के बाद इसमें एक और चौंकाने वाला मामला सामने आया है। इस मामले में चौथी लड़की भी सामने आ गई है। उसने आरोपी हॅास्टल संचालक अश्विनी शर्मा पर आरोप लगाया है कि उसने उसके साथ 6 महीने तक रेप किया। साथ ही जबरदस्ती पॅार्न फिल्में भी दिखाता था।

बता दें कि इस सनसनीखेज घटना में अबतक चार लड़कियां शिकायत दर्ज करा चुकी हैं।

इंदौर पुलिस के पास पहुंची पीड़ित लड़की ने आरोप लगाया है कि अश्विनी शर्मा ने उसे बंधक बनाकर रखा था और जबरदस्ती पॅार्न दिखाकर अप्राकृतिक यौन संबंध भी बनाता था।

उसने यह भी कहा कि उसके मना करने के बाद भी आरोपी शर्मा उसके साथ मारपीट करता था।

कैसे सामने आया मामला?

पुलिस के अनुसार, यह मामला गुरुवार को तब उजागर हुआ, जब धार जिले की एक मूक-बधिर युवती ने परिजनों को इशारों में आपबीती बताई। परिजनों ने धार और इंदौर पुलिस को शिकायत की। इस पर पुलिस ने शून्य पर मामला दर्ज कर भोपाल की अवापुरी थाने के पुलिस को प्रकरण भेजा। 

इसके बाद दो दिन के अंदर दो और महिलाओं ने आरोपी के खिलाफ शिकायत की थी। 

 हॅास्टल संचालक को छात्राओं से रेप और अश्लील हरकत के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) बनाया गया है।

बताया गया है कि अवापुरी में अश्विनी शर्मा मूक-बधिर बालिकाओं के लिए प्रशिक्षण केंद्र चलाता है, जिसे सरकार से अनुदान भी मिलता है। उसका तार्थ नाम से हॅास्टल भी है। इस छात्रावास में प्रशिक्षण लेने आने वाली युवतियां के रहने का इंतजाम है।

भोपाल क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) जयदीप प्रसाद ने शुक्रवार को बताया, धार की एक और इंदौर की दो युवतियों ने शिकायत दर्ज कराई है, उसी आधार पर छात्रावास संचालक अश्विनी शर्मा पर प्रकरण दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

उन्होंने आगे बताया कि अवधपुरी थाना क्षेत्र के हॅास्टल में हुई घटना की जांच एसआईटी करेगी। इसमें पांच सदस्य होंगे। इसका नेतृत्व पुलिस अधीक्षक दक्षिण भोपाल राहुल लोढ़ा करेंगे। वहीं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रश्मि मिश्रा, दिनेश कौशल भी इस दल के सदस्य होंगे।

धार की मूक-बधिर युवती द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार, वह भोपाल सिलाई-कढ़ाई का प्रशिक्षण लेने आई थी। यहां वह सालभर रही, जहां हॅास्टल संचालक ने कई बार उसके साथ रेप किया। 

और पढ़ें: देशभर के 3000 शेल्टर होम का सोशल ऑडिट, सरकार ने 40 से ज्यादा किये बंद

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने लिया क्या एक्शन?

अवधपुरी हॅास्टल की घटना सामने आने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान ने कहा कि अब सभी आश्रय स्थलों का हर माह निरीक्षण किया जाएगा। 

आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री चौहान ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास पर उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में आश्रय स्थलों का हर महीने निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने निजी संचालकों द्वारा चलाए जा रहे बालिकाओं के छात्रावासों के लिए भी नियम बनाने के निर्देश दिए। 

उन्होंने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि ऐसी घटनाओं से मन व्यथित होता है। एनजीओ द्वारा संचालित बालिका हॅास्टल का संचालक पकड़ा गया, जिसने मूक-बधिर युवती से ज्यादती करने की अप्रिय घटना को अंजाम दिया और उसे कड़ी सजा दिलाई जाएगी।

शिवराज ने कहा कि प्रदेश के उन सभी अनुदान प्राप्त, निजी या सरकारी आश्रय स्थलों का हर माह निरीक्षण किया जाएगा, जहां बेटियां रहती हैं। अनुदान प्राप्त संस्थाओं का फिलहाल हर दो महीने में निरीक्षण होता है।

मुख्यमंत्री ने अनाथालयों का भी निरीक्षण करने के निर्देश देते हुए कहा कि केवल संस्था चलाने वालों के भरोसे संचालन का काम नहीं छोड़ा जाएगा। नियमित निरीक्षण किया जाएगा। कई संस्थाएं अच्छे भाव से अनाथालय जैसी संस्थाएं चलाती हैं, लेकिन उनका भी नियमित निरीक्षण जरूरी है। 

ये भी पढ़ें: मुजफ्फरपुर के बाद बिहार के आसरा में भी महापाप की आशंका, शेल्टर होम में 2 महिलाओं की मौत

वहींं दूसरी तरफ मध्य-प्रदेश में कांग्रेस नेता शोभा ओझा ने आरोप लगाते हुए कहा है कि अश्विनी शर्मा आरएसएस का कार्यकर्ता था इसलिए हमें एसाआईटी की जांच पर भरोसा नहीं है। कांग्रेस ने एक वीडियो भी जारी किया था। इस वीडियो में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आरोपी अश्विनी शर्मा को आशीर्वाद देते नजर आ रहे हैं थे। 

दूसरी ओर बीजेपी ने कांग्रेस के आरोपों को पूरी तरह से खारिज कर दिया है। बीजेपी प्रवक्ता राहुल कोठारी ने कहा 'कांग्रेस बेवजह का आरोप लगा रही है, पुलिस इस मामले में बेहद संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है और आरोपी को गिरफ्तार किया जा चुका है।'

First Published: Sunday, August 12, 2018 07:49 PM

RELATED TAG: Bhopal Hostel Rape Case, Madhya Pradesh, Muzaffarpur Shelter Home, Ashwini Sharma, Shivraj Singh Chouhan, Congress, Bjp,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो