राजकोट: सीसीटीवी फुटेज से सामने आई कलयुगी बेटे की करतूत, बीमार मां को छत से धकेल की हत्या

अपने घर पर अपनी 64 वर्षीय मां की कथित तौर पर छत से धकेलकर हत्या करने के आरोप में पुलिस ने एक सहायक प्रोफेसर को गिरफ्तार किया है।

  |   Updated On : January 06, 2018 11:45 AM

नई दिल्ली :  

गुजरात के राजकोट से एक बेहद ही शर्मनाक और मां-बेटे के रिश्तों को तार-तार कर देने वाली घटना सामने आई है। एक बेटे ने अपनी मां को छत से धक्का देकर उसकी हत्या कर दी है।

पिछले साल सितंबर में अपने घर पर अपनी 64 वर्षीय मां की कथित तौर पर छत से धकेलकर हत्या करने के आरोप में पुलिस ने एक सहायक प्रोफेसर को गिरफ्तार किया है।

मामेला का सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद कलयुगी बेटे की काली करतूत सबके सामने आ गई। वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि कैसे असिस्टेंट प्रोफेसर(36) बेटा अपनी 64 वर्षीय मां को सीढ़ियों से ऊपर ले जाता है और फिर धक्का देकर अपने घर लौट आता है। 

बीते 27 सितंबर को गांधीग्राम के दर्शन ऐवन्यू में रहनेवाली जयश्रीबेन विनोदभाई नाथवानी की उनकी बिल्डिंग की छत से गिरने के बाद मौके पर ही मौत हो गई थी।

पुलिस ने इस बारे में आत्महत्या का मामला दर्ज कर फाइल बंद कर दी थी, लेकिन बाद में पुलिस को एक अज्ञात चिट्ठी मिली थी जिसमें शक जाहिर किया गया था कि जयश्रीबेन की हत्या हुई है।

इसके बाद पुलिस ने बिल्डिंग के सीसीटीवी फुटेज चेक किए तो एक दूसरी कहानी सामने आई। फुटेज में दिखा कि मृत जयश्रीबेन बीमारी की वजह से चलने में असमर्थ हैं और उनका बेटा संदीप सीढ़ियां चढ़ने में उनकी मदद कर रहा है और सहारा दे रहा है।

और पढ़ें: मुंबई के कमला मिल्स परिसर में हुक्के की चिंगारी ने ली थी 14 लोगों की जान, फायर ब्रिग्रेड की जांच में खुलासा

पुलिस के अनुसार संदीप ने उन्हें बताया कि ब्रेन हैमरेज की वजह से उसकी मां दो महीने से बिस्तर पर थी। अपनी लाचार मां की देखभाल और इलाज से वह परेशान हो चुका था। संदीप राजकोट स्थित बीके मेडिकल फार्मेसी कॉलेज के सहायक प्रोफेसर हैं, वहीं उसकी मां भी एक रिटायर्ड टीचर थी।

डीसीपी करनराज वाघेला ने बताया, 'सीसीटीवी फुटेज से हमें पता चला कि जब जयश्रीबेन छत से कूदीं तो उनका बेटा संदीप उनके साथ था और बेटे के साथ होने पर भी आत्महत्या कर पाना संभव नहीं था। इसके बाद ही संदीप की भूमिका शक के घेरे में आई।'

शुरुआत में नथवानी परिवार ने कहा कि जयश्री अपना संतुलन खोने के बाद छत से गिर गई क्योंकि उसको मस्तिष्क से संबंधित कुछ बीमारी थी।

पुलिस ने आरोपी प्रोफेसर बेटा को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने नथवानी के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 (हत्या के लिए सजा) के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।

और पढ़ें: कड़ाके की ठंड से कांपा पूरा उत्तर भारत, कोहरे की वजह से 18 ट्रेनें रद्द, 49 लेट

First Published: Saturday, January 06, 2018 10:37 AM

RELATED TAG: Rajkot, Gujarat, Professor, Suicide, Police, Death, Murder,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो