Ind vs Aus: रांची टेस्ट ड्रॉ रहा मगर क्या पुजारा भारत को यह मैच जिता सकते थे

चार टेस्ट मैचों की सीरीज 1-1 से अभी बराबरी पर चल रही है। ऐसे में दोनों ही टीमों को सीरीज जीतने के लिए चौथे टेस्ट पर निर्भर होना पड़ेगा। लेकिन इस टेस्ट मैच में ऐसे कई रिकॉर्ड बने जिससे यह टेस्ट ड्रॉ होकर भी यादगार हो गया।

  |   Updated On : March 21, 2017 01:06 PM

नई दिल्ली:  

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रांची में खेला गया तीसरा टेस्ट मैच किसी अंत तक ना पहुंचते हुए ड्रॉ हो गया। इस ड्रॉ के साथ भारत के पास सीरीज में बढ़त बनाने का एक बेहतरीन मौका हाथ से छूट गया। चार टेस्ट मैचों की सीरीज 1-1 से अभी बराबरी पर चल रही है। ऐसे में दोनों ही टीमों को सीरीज जीतने के लिए चौथे टेस्ट पर निर्भर होना पड़ेगा। लेकिन इस टेस्ट मैच में ऐसे कई रिकॉर्ड बने जिससे यह टेस्ट ड्रॉ होकर भी यादगार हो गया।

चौथे दिन का खेल खत्म होने के बाद सभी को उम्मीद थी कि भारत इस टेस्ट मैच को पांचवे दिन जीत के साथ ही खत्म करेगा लेकिन ऑस्ट्रेलिया के तरफ से शेन मार्श और पीटर हैंड्सकॉम्ब ने दीवार की तरह भारतीय गेंदबाजों का सामना किया और ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में हीरो साबित हुए। उन्हीं ही मैराथन पारियों की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में 204 रन बनाए और मैच को ड्रॉ कराने में कामयाब रहा। लेकिन तीसरे टेस्ट में ऐसी ही कुछ पारियों ने मैच को ड्रॉ की तरफ धकेल दिया।

यह भी पढ़ें- IndvsAus रांची से ज्यादा रोमांचक रहेगा धर्मशाला का मैच: विराट कोहली

पुजारा का स्लो शतक

पुजारा को भारतीय टीम की नई वॉल कहा जाता है। पुजारा ने समय समय पर यह साबित भी किया है। तीसरे टेस्ट में दोहरा शतक लगाकर पुजारा ने भारतीय टीम को मुश्किल की घड़ी से निकाला। लेकिन इस शतक के दौरान पुजारा ने बेहद धीमी पारी खेलकर द वॉल यानि राहुल द्रविड़ को भी पीछे छोड़ दिया।

पुजारा ने 202 रन बनाने के लिए 525 गेंदों का सामना किया गेंदों के हिसाब से किसी भारतीय द्वारा बनाई गई सबसे लंबी पारी रही। पुजारा ने भारत की पारी में अकेले 84 ओवर खेले और उनका स्ट्राइक रेट 38.47 रहा गेंदों के हिसाब से ये पुजारा की ये सबसे लंबी पारी रही। वहीं साहा भी पीछे नहीं रहे। शाह ने 233 गेंदों का सामना करते हुए 107 रन बनाए। पुजारा और शाह के बीच 468 गेंदों पर 199 रन की साझेदारी हुई। पुजारा और शाह ने भारत के दूसरी पारी के कुल मिलाकर 122 ओवर खेली।

यह भी पढ़ें- ये हैं टीम इंडिया की नई 'वॉल' चेतेश्वर पुजारा, दोहरे शतक के साथ द्रविड़ के इस रिकॉर्ड छोड़ा पीछे

32 साल बाद खेली इतनी लंबी पारी

इस मैच में टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने काफी लंबी पारी खेली और वो कारनामा करके दिखाया, जो 32 साल पहले हुआ था। टीम इंडिया ने 603 रन बनाए जिसके लिए उसने कुल 203 ओवर बल्लेबाजी की, भारतीय क्रिकेट में ये एक रिकॉर्ड है। इससे ज्यादा ओवर टीम इंडिया ने कभी भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नहीं खेले थे।

इससे पहले आखिरी बार साल 1985 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही सबसे ज्यादा 202 ओवर एडिलेड के मैदान पर खेले थे। गौरतलब है कि रांची टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले चेतेश्वर पुजारा ने भी कई रिकॉर्ड बनाए।

यह भी पढ़ें- विजय हजारे ट्रॉफी: तमिलनाडु ने एक बार फिर रोका बंगाल का रास्ता

मार्श और हैंड्सकॉम्ब की पारी ने पुजारा को भी छोड़ा पीछे

सिर्फ पुजारा नहीं, ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मार्श और हैंड्सकॉम्ब भी ऑस्ट्रेलिया के दूसरी पारी में काफी धीमा खेले और पुजारा को पीछे छोड़ दिए। दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया ने 63 रन पर ऑस्ट्रेलिया ने चार विकेट गंवा दिए थे। जिसके बाद शेन मार्श और हैंड्सकॉम्ब के बीच पांचवे विकेट के लिए 124 रन की साझेदारी हुई। यह 124 रन बनाने के लिए दोनों ने 371 गेंदों का सहारा लिया यानी करीब 62 ओवर खेले।

मार्श ने 197 गेंदों का सामना करते हुए करीब 27 की स्ट्राइक रेट से 53 रन बनाए जबकि हैंड्सकॉम्ब ने 200 गेंदों का सामना करते हुए 36 स्ट्राइक रेट से 72 रन पर नाबाद रहे। दोनों की इस शानदार पारी के वजह से हारे हुए मैच को ड्रॉ करने में कामयाब रहा ऑस्ट्रेलिया।

First Published: Tuesday, March 21, 2017 09:11 AM

RELATED TAG: Ranchi Test, India Vs Australia Test Series,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो