हिमाचल: महेंद्र सिंह धोनी को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच सियासी घमासान, क्रिकेटर के खर्च पर सीएम ने दी सफाई

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को राजकीय अतिथि बनाये जाने को लेकर विवाद जारी है। विपक्ष के आरोपों से घिरी हिमाचल सरकार ने इस मामले पर सफाई दी।

  |   Updated On : August 30, 2018 05:52 PM
पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी

पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी

नई दिल्ली :  

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को 'राजकीय अतिथि' बनाये जाने को लेकर विवाद जारी है। विपक्ष के आरोपों से घिरी हिमाचल सरकार ने इस मामले पर सफाई दी। सूबे के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने विधानसभा में कहा कि सरकार धोनी की सुरक्षा के अलावा उन पर कोई खर्चा नहीं कर रही है। मुख्यमंत्री ने इस मामले पर सफाई देते हुए कहा, 'भारतीय क्रिकेट के पूर्व कप्तान के साथ राजकीय अतिथि की तरह बर्ताव किया जा रहा है लेकिन उनकी सुरक्षा के अलावा उनपर कोई भी राशि खर्च नहीं की जा रही है।

देहरा के विधायक होशियार सिंह ने इस मुद्दे पर चर्चा शुरू की थी। इस चर्चा का जवाब देते हुए सूबे के मुख्यमंत्री ने कहा, 'दोनो पांच दिनों के लिए शिमला में हैं और हिमाचल सरकार ने उन्हें सुरक्षा मुहैया करवाई है। विज्ञापन के सिलसिले में धोनी शिमला में है।' उन्होंने कहा, 'सरकार ने उनके रहने का खर्चा नहीं उठाया है।'

बता दें कि विज्ञापन की शूटिंग के सिलसिले में धोनी और अभिनेता पंकज कपूर शिमला में है। धोनी की फैमिली भी शिमला में उनके साथ है। कांग्रेस ने धोनी को सरकार द्वारा स्टेट गेस्ट का दर्जा दिए जाने पर सवाल उठाया था।

और पढ़ें: India vs England: इशांत शर्मा ने टेस्ट क्रिकेट में पूरे किए 250 विकेट, बन गया यह रिकॉर्ड

कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि देश के लिए राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जीतकर मेडल लाने वाले कई खिलाड़ी अक्सर हिमाचल दौरे पर आते हैं लेकिन उन्हें सूबे की सरकार स्टेट गेस्ट का दर्जा नहीं देती, प्रदेश सरकार केवल पैसे वाले खिलाड़ियों को ही स्टेट गेस्ट का दर्जा दे रही है।

First Published: Thursday, August 30, 2018 05:24 PM

RELATED TAG: Mahendra Singh Dhoni, Jairam Thakur,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो