CWG 2018: याद रहेगा भारतीय खिलाड़ियों का 'स्वर्णिम सफर', 26 गोल्ड समेत जीते कुल 66 पदक

भारत ने 26 गोल्ड, 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज पदक जीते। 66 पदकों के साथ भारत पदक तालिका में तीसरे स्थान पर रहा।

  |   Updated On : April 15, 2018 03:11 PM

नई दिल्ली :  

ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत का स्वर्णिम सफर समाप्त हो गया है। भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में कुल 66 पदक जीते। भारत ने 26 गोल्ड, 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज पदक जीते। 66 पदकों के साथ भारत पदक तालिका में तीसरे स्थान पर रहा।

2014 के ग्लास्गो में हुए राष्ट्रमंडल खेलों से भारत की तुलना करें तो भारत ने उस वक्त 64 पदक जीते थे। इस बार भारत ने पिछली बार से बेहतर प्रदर्सन किया है।

इस बार भारत ने 15 खेलों में हिस्सा और 9 में मेडल जीते। भारत ने 2010 में दिल्ली कॉमनवेल्थ खेलों में कुल 101 पदक जीते थे। वहीं 2002 के मैनचेस्टर खेलों में कुल 69 मेडल मिले थे।

भारतीय एथलीटो ने हर खेल में बेहतर प्रदर्शन किया और हर खिलाड़ी ने देश के लिए मेडल जीतने के लिए पूरी ताकत झोंक दी। आइए एक-एक करके उन सभी खेलों की बात करते हैं जिसमें भारत मेडल जीता है।

सबसे पहले बात शूटिंग की करते है। भारत के लिए शूटिंग इवेंट काफी अच्छा रहा। शूटिंग में इस बार भारतीय निशानेबाजों ने 7 गोल्ड समेत कुल 16 मेडल जीते। अनीश भानवाला, मेहुली घोष और मनु भाकर जैसे युवा निशानेबाजों के अलावा हीना सिद्धू, जीतू राय और तेजस्विनी सावंत जैसी अनुभवी निशानेबाजों ने भी भारत के लिए पदक जीते।

इसके अलावा वेटलिफ्टिंग में भारतीय खिलाड़ियों ने देश का नाम रोशन करते हुए कुल 9 पदक जीते। वेटलिफ्टिंग में भारत ने पांच गोल्ड, दो सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल शामिल हैं।

इस बार वेटलिफ्टिंग में मीराबाई चानू, संजीता चानू और पूनम यादव ने भारत को गोल्ड दिलाया।

टेबल टेनिस में भी भारत की महिला और पुरुष टीम ने गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। वही महिला एकल में मणिका बत्रा ने गोल्ड मेडल जीता। पुरुष युगल और महिला युगल मुकाबलों में भारत को सिल्वर मेडल मिला।

भारतीय खिलाड़ियों ने जहा दिखाया कि हम वजन उठा भी सकते हैं और अच्छे-अच्छे वजनदार खिलाड़ियों को पटक भी सकते हैं। रेसलिंग में भारत ने 5 गोल्ड, तीन सिल्वर और चार ब्रॉन्ज समेत कुल 12 मेडल अपने नाम किए।

इस साल जो खिलाड़ी कुश्ती में भारत के हीरों रहे उनके नाम है बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, सुमित।

बीते कुछ सालों में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन के दम पर पूरी दुनिया में नाम कमाया है। इस बार भी जब देश को बैडमिंटन खिलाड़ियों से उम्मीदें थी तो उन्होंने निराश नहीं किया। भारत ने बैडमिंटन में कुल 6 पदक जीते। भारत ने मिक्स्ड टीम इवेंट में गोल्ड मेडल जीता व साथ ही महिला एकल में भी साइना नेहवाल ने हमवतन पीवी सिंधु को हराकर गोल्ड जीता। पुरुष एकल मुकाबले में भारत के किदांबी श्रीकांत ने सिल्वर जीता।

बॉक्सिंग में भी तीन गोल्ड, तीन सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज के साथ भारत ने कुल 9 पदक जीते। मैरी कॉम ने अपना पहला कॉमनवेल्थ गोल्ड जीता।

ऐथलेटिक्स में भारत को तीन पदक मिले। नीरज चोपड़ा ने जैवलिन में गोल्ड जीता। वहीं सीमा पूनिया ने डिस्कस थ्रो में सिल्वर और नवदीप ढिल्लो ने ब्रॉन्ज जीता।

First Published: Sunday, April 15, 2018 01:26 PM

RELATED TAG: Commonwealth Games, Cwg 2018, India,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो