BREAKING NEWS
  • मुंबई के 'एनकाउंटर स्पेशलिस्ट' इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा ने दिया इस्तीफा, जानिए क्या है वजह- Read More »
  • बाबरी मस्जिद विध्ंवस प्रकरण में विशेष न्यायाधीश से 9 महीने में फैसला सुनाए: SC- Read More »
  • कर्नाटक विधानसभा सत्र 22 जुलाई तक के लिए स्थगित, सोमवार पेश होगा विश्वासमत - Read More »

छत्तीसगढ़: पूर्व Cm रमन सिंह के दामाद डॉ पुनीत गुप्ता के खिलाफ FIR दर्ज

News State Bureau  |   Updated On : March 16, 2019 10:45 AM
former cm raman singh (फाइल फोटो)

former cm raman singh (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

डीकेएस सुपर स्पेश्यिलिटी अस्पताल के पूर्व अधीक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के दामाद डॉ पुनीत गुप्ता के खिलाफ 50 करोड़ के फर्जीवाड़े पर एफआईआर दर्ज हुई है. यह एफआईआर डीके के अधीक्षक डॉ केके सहारे की शिकायत पर गोल बाजार थाने में हुई है. पूर्व सीएम रमन सिंह के दामाद गुप्ता के खिलाफ कई धाराओं के तहत लोकसेवक होते हुए आपराधिक षड्यंत्र, धोखाधड़ी, चारसौ बीसी, जालसाजी, फर्जी दस्तावेज से हेराफेरी करने के आरोप लगे हैं. अंतागढ़ टेप कांड में भी पंडरी थाने में डॉ. गुप्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज है.

डीकेएस में मशीन खरीदी और भर्ती में भारी अनियमितता की शिकायत के बाद तीन सदस्यीय कमेटी ने मामले की जांच की थी. इसमें डॉ गुप्ता के खिलाफ 50 करोड़ की अनियमितता की बात सामने आई है.

और पढ़ें: छत्तीसगढ़ की 11 सीटों पर 3 चरणों में डाले जाएंगे वोट, आपके शहर में इस दिन वोटिंग

शिकायत के अनुसार डॉ गुप्ता ने 14 दिसंबर 2015 से 2 अक्टूबर 2018 के बीच अस्पताल में गड़बड़ी की. उन्होंने नियम विरुद्ध डॉक्टरों व अन्य स्टाफ की भर्ती की. वहीं अपात्र लोगों से पैसे लेकर नौकरी दी.

शिकायत में कहा गया है कि पूर्व अधीक्षक ने अपने पद और पहुंच का गलत फायदा उठाते हुए सरकारी पैसे का दुरुपयोग किया. इससे सरकारी खजाने को नुकसान हुआ है. कई ऐसी मशीनें खरीदी गई हैं, जिससे मरीजों से सीधा कोई वास्ता नहीं है.

ये भी पढ़ें: Rahul Live Updates : छत्तीसगढ़ में बोले राहुल गांधी, देश के सिर्फ 15-20 बिजनेसमैनों के लिए है आयुष्मान भारत योजना

चार बार रिमाइंडर भेजा, फिर भी जांच कमेटी के समाने पेश नहीं हुए: जांच कमेटी को मशीन खरीदी की पूरी फाइल नहीं मिली है. यही नहीं कुछ फाइल ओरिजनल के बजाय जीराक्स कॅापी में मिली. चार बार रिमाइंडर भेजने के बावजूद डाॅ पुनीत कमेटी के समक्ष बयान देने के लिए उपस्थित नहीं हुए. बेरोजगारों से विभिन्न पदों के लिए आवेदन मंगाए गए थे. 50 लाख के डिमांड ड्राफ्ट आलमारी में रखे-रखे लैप्स हो गया. आवेदकों को भी नहीं लौटाया गया. जबकि कई बेरोजगार डीडी के लिए रोज चक्कर लगा रहे हैं.

First Published: Saturday, March 16, 2019 10:45 AM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Former Cm Raman Singh, Dr Punit Gupta, Raman Singh, Chhattisgarh,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

अन्य ख़बरें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो